झारखंड के किसानों की बढ़ेगी आमदनी, ड्रैगन फ्रूट की बड़े पैमाने पर खेती

Smart News Team, Last updated: 03/11/2020 08:04 PM IST
  • इसका उद्देश्य किसानों की आय में वृद्धि करना है. ड्रैगन फ्रुट ड्रैगन नाम के पौधे पर होने वाला फल है जो कि कम उपजाऊ जमीन पर भी अच्छी खासी पैदावार प्रदान करता है. बाजार में इसकी कीमत भी काफी है.
झारखंड में जेटीडीएस ने बड़े पैमाने टांड जमीन पर ड्रैगन फ्रूट की खेती की तैयारी शुरू कर दी है.(फाइल फोटो)

रांची. झारखंड ट्राइबल डेवलपमेंट सोसाइटी (जेटीडीएस) ने झारखंड में बड़े पैमाने टांड जमीन पर उपज पैदा करने के लिए ड्रैगन फ्रूट की खेती की तैयारी शुरू कर दी है. साथ ही इसका उद्देश्य किसानों की आय में वृद्धि करना है. ड्रैगन फ्रुट ड्रैगन नाम के पौधे पर होने वाला फल है जो कि कम उपजाऊ जमीन पर भी अच्छी खासी पैदावार प्रदान करता है. बाजार में इसकी कीमत भी काफी है

जेटीडीएस के अनुसार झारखंड में 12 से 15 फीसदी जमीन टांड है जिसपर खेती नहीं होती है. बड़े पैमाने पर टांड़ जमीन होने के कारण ड्रैगन फ्रूट की खेती के लिए काफी उपयुक्त है. एक प्रयोग के तौर पर रांची और खूंटी इसकी खेती का किया जाएगा ताकि भविष्य में इसके अवसरों को तलाशा जा सके. शुरुआत में योजना के तहत दो एकड़ में इसकी पैदावार की जाएगी जिसके लिए 10-10 लोगों का समूह बनाया जाएगा. बाद में इसे पहाड़ी इलाके में रहने वाले लोगों को इसकी खेती से जोड़ा जाएगा.

रांची: जमीन-फ्लैट बेचने के नाम पर चल रहा ठगी का धंधा, पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई

ड्रैगन फ्रुट एक विशेष तरह के पौधे पर जो कि ड्रगन की तरह दिखता है. इसकी खेती ऐसी जमीन पर की जाती है जो ज्यादा उपजाऊ नहीं है. इसका फल 200 रुपये किलो के हिसाब से बिकता है जो की आय के दृष्टि से भी काफी किफायती है. किसान के लिए अच्छी बात यह है कि इसके लिए कोई विशेफ देखभाल की भी जरुरत नहीं होती. साथ ही ये विटामिन-ए की अच्छा स्त्रोत है.

अन्य खबरें