झारखंड HC का निर्देश, 'हटाए गए सभी 42 दारोगा की 6 हफ्तों में नियुक्ति हो'

Smart News Team, Last updated: Sat, 27th Feb 2021, 12:04 PM IST
  • झारखंड हाईकोर्ट ने सरकार को 6 हफ्ते में 42 दारोगा की सेवा बहाल करने का निर्देश दिया है. जस्टिस एचसी मिश्र की अदालत ने मामले पर सुनवाई करते हुए सरकार को निर्देश दिया.
झारखंड हाईकोर्ट का निर्देश

रांची: झारखंड हाईकोर्ट ने सरकार को 6 हफ्ते में 42 दारोगा की सेवा बहाल करने का निर्देश दिया है. हाईकोर्ट ने शुक्रवार को 42 दारोगा को नौकरी से हटाए जाने के मामले में अवमानना याचिका पर सुनवाई करते हुए ये निर्देश दिए.

सुनवाई के दौरान प्रार्थी के वकील ने अदालत को बताया कि इस मामले में झारखंड हाईकोर्ट की खंडपीठ ने निकाले गए सभी 42 दारोगा को बहाल करने का आदेश दिया था. हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ झारखंड सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दायर की थी, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के आदेश को बरकरार रखते हुए सरकार की एसएलपी खारिज कर दी. ऐसे में राज्य सरकार अब जल्द से जल्द नियुक्ति करे.

चोरों के हौसले बुदंल, थाने से 500 मीटर की दूरी पर चोरी की घटना को दिया अंजाम

आपको बता दें कि साल 2008 में दारोगा, कंपनी कमांडर और सार्जेंट मेजर पद के लिए वैकेंसी निकाली गई थी. प्रक्रिया पूरी होने के बाद कई अभ्यर्थियों को नियुक्ति दे दी गई.

रांची में फूड वैन लाइसेंस के लिए जोन के हिसाब से लगेगा 1500 से 5000 तक का शुल्क

इस दौरान नियुक्ति में गड़बड़ी की बात सामने आने पर संशोधित मेरिट लिस्ट जारी की गई. इसमें 42 दारोगा को नौकरी से हटा दिया गया. इसके बाद सभी हटाए गए दारोगा ने हाईकोर्ट में अर्जी दाखिल कर सरकार के आदेश को चुनौती दी. जस्टिस एचसी मिश्र की अदालत ने मामले पर सुनवाई करते हुए सरकार को 6 हफ्ते में सभी 42 दारोगा की सेवा बहाल करने का निर्देश दिया.

 

अन्य खबरें