झारखंड: सोरेन सरकार जल्द खोलेगी सरकारी नौकरी का पिटारा, 1 लाख पदों पर होगी भर्ती

Indrajeet kumar, Last updated: Thu, 4th Nov 2021, 4:13 PM IST
  • झारखंड में हेमंत सोरेन सरकार ने साल 2021 को नियुक्ति का वर्ष घोषित किया है. दावा किया जा रहा है कि बहुत जल्द ही झारखंड सरकार तीन लाख नौकरियों के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू करेगी. इसके लिए सरकार करीब 3 दर्जन नियमावली में संशोधन करने जा रही है. जिनमें से 1 दर्जन नियमावली को संशोधित कर लिया गया है.
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन. (फाइल फोटो)

रांची. झारखंड सरकार ने इस 2021 को नियुक्ति वर्ष घोषित किया है. दावा है कि हेमंत सोरेन सरकार जल्द ही तीन लाख नौकरियों के लिए नियुक्ति प्रक्रिया शुरू करेगी. इसी बीच मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने नियुक्ति के लिए नियमावली संशोधित करने का आदेश दिया है. मिली जानकारी के मुताबिक सरकार उन नियमवाली को संशोधित किया जाएगा जिसकी अधियाचना पहले भेजी जा चुकी थी. हाल में बने कैबिनेट के निर्णयों के आलोक में संशोधित नियमावली के अनुसार ही परीक्षा होनी है. इसके लिए नियमावली में संशोधन जरूरी है. इस नियमावली के बन जाने के बाद झारखंड में कर्मचारी चयन आयोग (JSSC) की ओर से होने वाली परीक्षा के लिए तैयारियों में और तेजी आने की संभावना है.

मिली जानकारी के मुताबिक करीब 4 दर्जन नियमावली कतार में है. जिनमें से 1 दर्जन नियमावली को अंतिम रूप दिया जा चुका है. इनमें से सबसे बेहतर प्रदर्शन उत्पाद विभाग और नगर विकास विभाग का है. वहीं स्वास्थ्य विभाग समेत कई विभागों का प्रदर्शन बहुत खराब है. हालांकि नियुक्ति प्रक्रिया शुरू में अब कोई कानूनी अड़चन नहीं है. आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) को 10 प्रतिशत आरक्षण देने के लिए पहले ही संबंधित नियमावली में संशोधन किया जा चुका है. हालांकि अब झारखंड से अब झारखंड से मैट्रिक और इंटर पास लोगों को रोजगार देने और स्थानीय भाषा का ज्ञान जरूरी होने से संबंधित संशोधन करना जरूरी है. इसके लिए सभी संबंधित विभागों को निर्देश भेजा जा चुका है.

JPSC PT Result 2021: करीब 4293 कैंडिडेट्स सफल, 252 पदों पर होगी भर्ती

झारखंड सरकार अलग-अलग विभागों की नियमावली को संशोधित कर नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू करना चाहती है. ये सभी सुधार हो जाने के बाद लगभग 80 हजार से एक लाख नियुक्ति को लेकर प्रक्रिया शुरू हो सकेगी. इनमें से सबसे अधिक नियुक्तियां गृह विभाग और शिक्षा विभाग में होने की संभावना है. हालांकि अब तक कुछ विभागों के आंकड़े साफ नहीं हो पाए हैं.

अन्य खबरें