झारखंड HC ने की JPSC परीक्षा में कट ऑफ डेट घटाने की याचिका खारिज, जानें मामला

Smart News Team, Last updated: 07/04/2021 04:17 PM IST
  • झारखंड हाईकोर्ट ने जेपीएससी की संयुक्त सिविल परीक्षा 2021 में उम्र की कट ऑफ डेट को घटाने की याचिका को खारिज कर दिया है. हाईकोर्ट ने कहा कि ये सरकार का नीतिगत मामला है.
हाईकोर्ट ने जेपीएससी परीक्षा में उम्र की कट ऑफ डेट को घटाने की याचिका को खारिज किया.

राँची. झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) की संयुक्त सिविल परीक्षा 2021 में उम्र के कट ऑफ डेट को घटाने की याचिका को झारखंड हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है. इस मामले में हाईकोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रखा था. जिसे बुधवार को जस्टिस डॉ. एसएन पाठक ने सुनाया है. इस संबंध में प्रणय कुमार राय और प्रवीन कुजुर ने झारखंड हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की थी. 

इस मामले में बुधवार को डॉ. एसएन पाठक की कोर्ट ने याचिका को खारिज करते हुए कहा कि ये सरकार का नीतिगत मामला है. इस मामले में हस्तक्षेप नहीं किया जा सकता है. इस मामले में जेपीएससी की ओर से वकील संजय पिपरवाल ने हाईकोर्ट में अपना पक्षा रखा है. सुनवाई के दौरान अधिवक्ता विकास कुमार और सुगंधा ने कोर्ट में बताया कि 2020 में संयुक्त सिविल सेवा परीक्षा का विज्ञापन निकाला था.

कोरोना से लड़ने को अपराधियों से PPE किट पहनकर पूछताछ करेगी रांची पुलिस

वकील ने बताया कि संयुक्त सिविल सेवा परीक्षा के निकले विज्ञापन में उम्र का कट ऑफ डेट 2011 रखी गई थी. कुछ वजहों से सरकार ने इस विज्ञापन को वापस ले लिया था. उन्होंने कहा कि इसके एक साल बाद जेपीएससी की ओर दोबार संयुक्त सिविल सेवा परीक्षा के लिए विज्ञापन निकाला गया. इस विज्ञापन में उम्र की कट ऑफ डेट को बढ़ाकर 1 अगस्त 2016 कर दी गई.

झारखंडवासियों को बड़ी राहत, 9 अप्रैल से पहले मिलेंगी 10 लाख कोरोना वैक्सीन डोज

अधिवक्ता ने हाईकोर्ट में कहा कि इस विज्ञापन में उम्र के कट ऑफ डेट को 1 अगस्त 2016 की जगह पर एक अगस्त 2011 किया जाए. उन्होंने कहा कि नियमानुसार हर साल सिविल सेवा की परीक्षा होनी चाहिए लेकिन ऐसा नहीं किया गया है. सुनवाई के बाद हाईकोर्ट ने उम्र के कट ऑफ डेट को घटाने की मांग की याचिका को खारिज कर दिया है.

 

अन्य खबरें