रांची: 20 साल पहले गायब सुरेन्द्र बंगाली के रिकॉर्ड मामले में HC के जांच के आदेश

Smart News Team, Last updated: 13/01/2021 04:18 PM IST
सिविल कोर्ट से 20 साल पहले गायब हुआ रांची के कुख्यात अपराधी सुरेन्द्र बंगाली के एक मामले का रिकॉर्ड आज तक नहीं मिल पाया है. झारखंड हाई कोर्ट ने इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं.
रांची के कुख्याती अपराधी सुरेन्द्र बंगाली का रिकाॅर्ड सिविल कोर्ट से 20 साल पहले गायब हो गया था.

राँची. रांची का कुख्यात अपराधी सुरेन्द्र बंगाली उर्फ सुरेन्द्र सिंह रौतेला के एक आपराधिक मामले का रिकॉर्ड रांची के सिविल कोर्ट से गायब हो गया है. लगभग 20 साल पहले गायब हुआ ये रिकॉर्ड आज तक नहीं मिल पाया है. इसकी कोई एफआईआर भी दर्ज नहीं हुई है. इस मामले को गंभीरता से लेते हुए झारखंड हाइकोर्ट ने जांच करने के आदेश दिए हैं.

20 साल पहले रांची के सिविल कोर्ट से अपराधी सुरेन्द्र बंगाली का रिकॉर्ड गायब हो गया था. मिली जानकारी के अनुसार, ये रिकॉर्ड आज तक नहीं मिल पाया है ओर न ही निचली अदालत ने रिकॉर्ड को दोबार तैयार करने का प्रयास किया है. मामले से संबंधित पुलिस थाने और एसएसपी कार्यालय से भी रिकॉर्ड नहीं लिया गया. 

रांची में वॉटर कनेक्शन लेना हुआ कई गुना महंगा, जानें, कितनी चुकानी होगी कीमत

जानकारी के मुताबिक, अपराधी के गायब रिकॉर्ड की जांच के लिए निचली अदालत ने एक कमेटी भी बनाई थी लेकिन कमेटी अभी तक इस मामले पर कुछ नहीं कर पाई है. निचली अदालत ने रिकॉर्ड गायब होने की प्राथमिकी भी अभी तक दर्ज नहीं की है. जिसके बाद झारखंड हाईकोर्ट ने इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं.

दल बदल मामले में बाबूलाल मरांडी ने HC से स्पीकर को जवाब देने के लिए समय मांगा

आपको बता दें कि सुरेन्द्र बंगाली पर हत्या के कई मामले दर्ज हैं. जिसमें से कुछ मामलों में उसे सजा हो चुकी है लेकिन एक मामले में बंगाली को 1999 में पुलिस ने रिमांड पर लिया था. जब सुरेन्द्र बंगाली ने निचली अदालत में जमानत की याचिका दायर की तो उसका रिकॉर्ड नहीं मिला. इस वजह से निचली अदालत ने सुनवाई करने से इंकार कर दिया था.

 

अन्य खबरें