दहेज उत्पीड़न केस में HC का पूर्व DGP और बहू को पेश होने का आदेश, 11 को सुनवाई

Smart News Team, Last updated: 10/02/2021 12:34 AM IST
  • झारखंड हाईकोर्ट ने पूर्व डीजीपी और बहू को हाजिर होने के लिए कहा गया है. मामले में कोर्ट के आदेश के बाद उन्हें 11 फरवरी को हाईकोर्ट में हाजिर होना है. इससे पहले दहेज प्रताड़ना के आरोप को रद्द करने के लिए याचिका लगाई गई थी जिसे लेकर जस्टिस आनंद सेन की अदालत में मंगलवार को सुनवाई की जिसमें कहा गया है कि मध्यस्थता से मामला सुलझा लिया गया है.
दहेज उत्पीड़न मामले में झारखंड हाईकोर्ट ने पूर्व डीजीपी और बहू को हाजिर होने आदेश दिये हैं.(फाइल फोटो)

रांची. पूर्व डीजीपी डीके पांडेय के खिलाफ दहेज प्रताड़ना केस में झारखंड हाईकोर्ट ने पूर्व डीजीपी  और बहू को हाजिर होने के लिए कहा गया है. मामले में कोर्ट के आदेश के बाद उन्हें 11 फरवरी को हाईकोर्ट में हाजिर होना है. इससे पहले दहेज प्रताड़ना के आरोप को रद्द करने के लिए याचिका लगाई गई थी जिसे लेकर जस्टिस आनंद सेन की अदालत में मंगलवार को सुनवाई की जिसमें कहा गया है कि मध्यस्थता से मामला सुलझा लिया गया है. 

कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए आदेश दिया है कि 11 फरवरी को डीके पांडेय और बहू दोनों सशरीर हाजिर होने के आदेश दिये हैं. हाईकोर्ट के सुनवाइ कर रहे आंनद सेन के सामने पूर्व डीजीपी डीके पांडेय ने अदालत को बताया कि दहेज उत्पीड़न मामले में उनकी बहू ने मेरे और परिजनों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था. लेकिन हमने आपस में विवाद को मध्यस्थता करते हुए सुलझा लिया है. इसलिए एफआईआर को रद्द कर दिया जाए. 

रांची के स्लम एरिया में भी होगी कोविड-19 की जांच, मोबाइल वैन से शुरू होगा अभियान 

अदालत ने इस याचिका पर अभी कोई फैसला नहीं किया है इसलिए दोनों पक्षों को निर्देश दिये गए है कि वो 11 फरवरी को हाई कोर्ट में हाजिर हो. दोनों पक्षों की स्टेटमेंट रिकॉर्ड करने के बाद अदालत इस मामले पर अपना फैसला सुनाएगी.

रांची: गला रेतकर हत्या करने के मामले में तीन आरोपी गिरफ्तार, जमीन का था विवाद

अन्य खबरें