झारखंडवासियों को बड़ी राहत, 9 अप्रैल से पहले मिलेंगी 10 लाख कोरोना वैक्सीन डोज

Smart News Team, Last updated: 06/04/2021 11:17 PM IST
  • झारखंड को नौ अप्रैल से पहले कोरोना वैक्सीन के 10 लाख डोज उपलब्ध कराए जाएंगे. यह जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने झारखंड सरकार को दी है. झारखंड के लिए 20 लाख कोरोना वैक्सीन डोज आवंटित की गई थी.
झारखंडवासियों को बड़ी राहत, 9 अप्रैल से पहले मिलेंगी 10 लाख कोरोना वैक्सीन डोज. प्रतीकात्मक तस्वीर

रांची: देश भर में कोरोना के दुसरे लहर को देखते हुए पूरे देश में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया तेज कर दी गई है. इसी क्रम में झारखंड को नौ अप्रैल से पहले कोरोना वैक्सीन के 10 लाख डोज उपलब्ध कराए जाएंगे. यह जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने झारखंड सरकार को दी है. झारखंड के लिए 20 लाख कोरोना वैक्सीन डोज आवंटित की गई थी. ज्ञात हो कि राज्य सरकार ने केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय से कोविड वैक्सीन डोज मांगे हैं.

कोरोना टीका का दोनों डोज ले चुके झारखंड राज्य कोविड नोडल ऑफिसर कोरोना संक्रमित

झारखंड के स्टेट कोविड नोडल अफसर डॉ ब्रजेश मिश्रा भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं. डॉ मिश्रा कोरोना टीका का दोनों डोज ले चुके थे. उनके घर में पांच सदस्य हैं सभी पॉजिटिव हो गए हैं.

झारखंड में कोरोना मरीज पांच हजार के पार, रांची में बेड की मारामारी

रांची में कोविड संक्रमितों के लिए 2281 बेड तैयार

कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए रांची में 2281 बेड तैयार किए गए हैं. रिम्स रांची में 252 नॉर्मल कोविड बेड की व्यवस्था की गई है. यहां बिना लक्षण के कोविड-19 मरीजों के इलाज की व्यवस्था की गई है.यहां ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड 90, आईसीयू बेड 88 तथा 48 वेंटीलेटर बेड हैं. सदर अस्पताल में 62 ऑक्सीजन बेड, 60 आईसीयू बेड और 60 वेंटीलेटर बेड हैं. सीसीएल गांधीनगर में 60 नॉर्मल बेड, 10 आईसीयू बेड और 05 वेंटीलेटर बेड है. खेलगांव स्थित कोविड केयर सेंटर में 710 नॉर्मल बेड है. निजी अस्पतालों में 189 नॉर्मल बेड, 404 ऑक्सीजन बेड, 190 आईसीयू बेड और 53 वेंटीलेटर बेड तैयार किए गए हैं.

अन्य खबरें