झारखंड: महिलाओं को सभी नियुक्तियों में इस फार्मूले के तहत मिलेगा आरक्षण, जानें

Anurag Gupta1, Last updated: Wed, 8th Dec 2021, 2:09 PM IST
  • महिलाओं को सभी नियुक्तियों में पांच फीसद आरक्षण मिलेगा. इस संबंध में जेपीएससी, जेएसएससी और झारखंड संयुक्त प्रवेश प्रतियोगिता परीक्षा पर्षद को पत्र भेजा है. झारखंड राज्य के अनारक्षित एवं आरक्षित कोटि की महिला उम्मीदवारों को पांच प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण अनुमान्य है.
महिलाओं को हर नियुक्ति में मिलेगा आरक्षण (प्रतीकात्मक फोटो)

रांची. रोजगार की तलाश कर रही महिलाओं के लिए खुशखबरी है. झारखंड सरकार ने सभी नियुक्तियों में महिलाओं को पांच फीसदी क्षैतिज आरक्षण देने का निर्देश दिया है. इसकी जानकारी कार्मिक विभाग की प्रधान सचिव वंदना डाडेल ने दी है. वंदना डाडेल ने इस संबंध में जेपीएससी, जेएसएससी और झारखंड संयुक्त प्रवेश प्रतियोगिता परीक्षा पर्षद को पत्र भेजा है. इसमें सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का हवाला दिया गया है

बता दें सर्वोच्च न्यायालय ने आरक्षण की गणना को लेकर फार्मूला तय किया है. सर्वोच्च न्यायलय ने तय किया है किस फार्मूला के तहत ही आरक्षण देना है. ऐसे में प्रधान सचिव ने उक्त फार्मूला के तहत महिलाओं को राज्य में अनुमान्य आरक्षण देना है. महिलाओँ को पांच प्रतिशत का क्षैतिज आरक्षण का लाभ देने को लिखा है.

झारखंड में बिजली उपभोक्ताओं को लग सकता झटका, अगले साल से इतने फीसदी होगी मंहगी

महिलाओं के पांच प्रतिशत आरक्षण:

कार्मिक विभाग ने लिखा है कि झारखंड पदों एवं सेवाओं की रिक्तियों में आरक्षण (अनुसूचित जातियों, अनुसूचित जनजातियों एवं पिछड़े वर्गों के लिए) अधिनियम 2001 के तहत सीधी भर्ती के लिए सभी नियुक्तियों में झारखंड राज्य के अनारक्षित एवं आरक्षित कोटि की महिला उम्मीदवारों को पांच प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण अनुमान्य है. इस क्षैतिज आरक्षण की गणना में प्रत्येक कार्यालय द्वारा एकरूपता बरतने की जरूरत थी. ऐसे में महिलाओं को आरक्षण देने से महिलाओं को लाभ मिलेगा.

ऐसे में समानता के लिए विभाग के स्तर से एक स्पष्टीकरण निर्गत करना विचाराधीन था. अब सर्वोच्च न्यायालय द्वारा उत्तर प्रदेश और गुजरात से संबंधित मामले में पारित फैसले के अनुरूप झारखंड में भी महिलाओं को क्षैतिज आरक्षण देने का निर्णय लिया गया है. अब महिलाओं को सभी नियुक्तियों में पांच फीसदी क्षैतिज आरक्षण मिलेगा. सर्वोच्च न्यायालय ने आरक्षण की गणना को लेकर फार्मूला तय किया है.

अन्य खबरें