झारखंड में पहले जैसी पाबंदियों के साथ 13 मई तक बढ़ा मिनी लॉकडाउन, जानें डिटेल्स

Smart News Team, Last updated: Thu, 6th May 2021, 10:40 AM IST
  • झारखंड सरकार ने सभी पाबंदियों को जारी रखते हुए स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह यानी मिनी लॉकडाउन को 13 मई की सुबह 6:00 बजे तक बढ़ाने का फैसला किया है. आदेश के अनुसार 13 मई की सुबह तक स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह जारी रहेगा. इस दौरान जरूरी सेवाओं को सशर्त छूट हासिल होगी.
झारखंड में पहले जैसी पाबंदियों के साथ 13 मई तक बढ़ा मिनी लॉकडाउन, जानें डिटेल्स

रांची। झारखंड सरकार द्वारा सूबे में मौजूदा पाबंदियों के साथ मिनी लॉकडाउन यानी स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह को 13 मई की सुबह 6:00 बजे तक बढ़ा दिया गया है. लॉकडाउन के दौरान सभी दुकाने, मार्केट व प्रतिष्ठान बंद रहेंगे. कुछ दुकानों को दिन में 2:00 बजे तक खोलने की अनुमति हासिल है. बुधवार रात को लॉकडाउन के संबंध में मुख्य सचिव सुखदेव सिंह द्वारा जारी किए गए आदेश के अनुसार 13 मई सुबह 6:00 बजे तक स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह जारी रहेगा. इस दौरान जरूरी सेवाओं को सशर्त छूट हासिल होगी. कुछ दफ्तर जैसे स्वास्थ्य, गृह कार्य एवं आपदा प्रबंधन, पुलिस, अग्निशमन, उपायुक्त, नगर निगम, प्रखंड कार्यालय, आदि 50% उपस्थिति के साथ शाम तक खोले जा सकेंगे.

बताते चलें कि झारखंड में बुधवार को कोरोना के 5770 संक्रमित मरीज मिले हैं, जबकि कुल 5804 मरीज स्वस्थ हुए हैं. राज्य में 141 की मौत के साथ राजधानी रांची में ही 41 मरीजों की जान गई. बुधवार को राज्य में तीन जिलों में 600 से ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं. इसके अलावा राजधानी रांची में 958, पूर्वी सिंहभूम में 897, हजारीबाग में 693 मरीज मिले हैं. हालांकि कुल 7 जिलों में मिलने वाले मरीजों की संख्या 100 से कम है. राज्य में कुल 5804 मरीज स्वस्थ हुए हैं.

Ramadan 2021:बिहार, झारखंड और MP के 10 बड़े शहरों में 6 मई को रोजा इफ्तार टाइम

झारखंड में ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण फैलने से रोकने के लिए राज्य सरकार ने बुधवार को एक और फैसला लिया है. फैसले के अनुसार अन्य क्षेत्रों से राज्य में लौट कर प्रवासी मजदूरों को पहले यहां एंटीजन टेस्ट कराना होगा. टेस्ट में नेगेटिव आने के बाद भी मजदूरों को जिला प्रशासन के द्वारा बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटर में रहना होगा. 7 दिन क्वॉरेंटाइन पूरा कर लेने के बाद दोबारा एंटीजन जांच कराई जाएगी जिसमें रिपोर्ट नेगेटिव आने पर उन्हें घर जाने दिया जाएगा लेकिन रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उसे स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों के मुताबिक प्रबंधित किया जाएगा.

कोरोना काल में रेमडेसिविर इंजेक्शन की धड़ल्ले से हो रही कालाबाजारी, 2 गिरफ्तार

झारखंड सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग ने आदेश जारी करते हुए कहा है कि देश के दूसरे हिस्सों में भी लॉकडाउन लगने के कारण सभी गतिविधियों को रोक दिया गया है. इसी के चलते एक बार फिर प्रवासी मजदूरों के झारखंड वापस आने का सिलसिला शुरू हो गया है. इसलिए अधिसूचना के मुताबिक प्रवासी मजदूरों के संबंध में यह फैसला लिया गया है कि ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार बढ़ रहे कोरोना केस के फैलाव को रोकने के लिए यह फैसला लिया गया है.

अन्य खबरें