दो दिवसीय प्रकाशोत्सव सादगी से मनाई जाएगी लोहड़ी नहीं होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम

Smart News Team, Last updated: 12/01/2021 09:06 PM IST
सिखों के दसवें गुरु गुरु गोविंद सिंह महाराज का 354 वा प्रकाशोत्सव मनाने को लेकर सिख समुदाय की ओर से तैयारी शुरू कर दी गई है. प्रभात फेरी का दौर आज से शुरू हो गया है.
दो दिवसीय प्रकाशोत्सव सादगी से मनाई जाएगी लोहड़ी नहीं होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम

रांची . आज निकाली गई प्रभात फेरी गुरुद्वारा परिसर से शुरू होकर कृष्णा नगर कॉलोनी की विभिन्न गलियों से होते हुए वापस गुरुद्वारा पहुंचकर विसर्जित हो गई. प्रभात फेरी के दौरान शामिल लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते नजर आए. प्रकाश उत्सव की तैयारियों को लेकर अध्यक्ष हरविंदर सिंह ने बताया कि प्रकाश उत्सव में भाग लेने के लिए लुधियाना का सिख पंथ के महान कीर्तनी जत्था के रागी भाई गुरशरण सिंह और उनके साथी रांची पहुंच रहे हैं.

उन्होंने बताया कि खालसा पंथ के प्रणेता गुरु गोविंद सिंह महाराज का 54 वां प्रकाश उत्सव का पर्व आगामी 23 और 24 जनवरी को मनाया जाएगा. उन्होंने बताया कि 23 जनवरी को सुबह 4:00 बजे से 5:30 बजे तक सिमरन जाप और रात 8:00 बजे से 11:30 बजे तक गुरुद्वारा परिसर में विशेष दीवान सजेगा. जबकि 24 जनवरी की सुबह 10:00 बजे से दोपहर 2:30 बजे तक विशेष दीवान सजेगा. प्रकाश सो सो के उपलक्ष में 18 जनवरी को गुरुद्वारा में अखंड पाठ रखा जाएगा.

दल बदल मामले में विधानसभा स्पीकर की याचिका खारिज SC में खारिज, कहा-हाईकोर्ट जाएं

अखंड पाठ का भोग प्रकाशोत्सव के दिन होगा. उन्होंने बताया कि कोविड-19 के संक्रमण के चलते इस बार प्रकाशोत्सव पर 40 साल की परंपरा टूट रही है. पिछले 40 सालों से लगातार सत्संग सभा का जत्था सेवा और प्रभातफेरी में शामिल होने के लिए पटना साहिब जाता है जो कि इस बार नहीं जा पा रहा है.

 

अन्य खबरें