झारखंड में एयर प्योरीफिकेशन के लिए योजना तैयार, 318 करोड़ रुपए होंगे खर्च

Smart News Team, Last updated: Mon, 15th Feb 2021, 12:53 PM IST
  • रांची और धनबाद समेत कई शहरों में हवा को प्योरीफाई करने के लिए नगर विकास विभाग की ओर से योजना बनाई गई है. इसके तहत 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में हवा की गुणवत्ता सुधारने के लिए 318 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे.
एयर प्योरीफिकेशन के लिए योजना तैयार

रांची: झारखंड में हवा को प्योरीफाई करने के लिए नगर विकास विभाग की ओर से योजना बनाई गई है. इसके तहत रांची और धनबाद जैसे 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में हवा की गुणवत्ता सुधारने के लिए 318 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे. हवा के अलावा ठोस कचरा प्रबंधन पर भी 15वें वित्त आयोग की सिफारिश पर ये राशि दी जाएगी.

केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय की ओर से 2020 से 2025 तक शहरों की हवा की गणुवत्ता को सुधारने का लक्ष्य रखा गया है. इसके तहत हवा में मौजूद पीएम 10 और पीएम 2.5 कणों की मात्रा को सुधारने का काम किया जाएगा. मिलने वाली 318 करोड़ की इस राशि में से 159 करोड़ बिना शर्त के दिए जाएंगे और बाकी राशि परिणाम के आधार पर मिलेंगे.

नामकुम गोरीबारी मामले में पुलिस को मिली बड़ी सफलता

दरअसल शहरों को क्लाइमेट स्मार्ट सिटी बनाने की योजना पर काम चल रहा है. नगर विकास विभाग क्लाइमेंट असेसमेंट रिपोर्ट के आधार पर इसकी शुरुआत करेगा. इस योजना में क्लाइमेट-स्मार्ट सिटीज एसेसमेंट फ्रेमवर्क, ग्रीन इंडिया मिशन और नेशनल क्लीन एयर प्रोग्राम, अमृत और स्वच्छ भारत मिशन की तरह ही प्रावधान हैं.

रांची रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म टिकट पैसेंजर ट्रेन किराए से ज्यादा, जानें ऐसा क्यों

योजना में 2050 तक की जरूरतों का भी आकलन किया जाएगा. इसमें कार्बन उत्सर्जन कम करने से, हरित सार्वजिनक परिवहन को बढ़ावा देने, साफ हवा की कार्ययोजना लागू करने और राष्ट्रीय व्यापक वायु गुणवत्ता मानक का पालन करना भी शामिल है.

 

अन्य खबरें