रांची : फटाफट जमीन विवाद निपटायें, जिला विधिक सेवा प्राधिकार के साथ आएं

Smart News Team, Last updated: Sat, 13th Feb 2021, 4:20 PM IST
  • वैसे तो जमीन जायदाद के मामले निपटाने में वर्षों का समय लगता है लेकिन जिला विधिक सेवा प्राधिकार के साथ आकर आप अपने जमीन संबंधी मामलों को बिना समय और वकीलों को बिना पैसा दिए आसानी से सुलझा सकते हैं.
फटाफट जमीन विवाद निपटायें, जिला विधिक सेवा प्राधिकार के साथ आएं (प्रतीकात्मक तस्वीर)

रांची : जिला विधिक सेवा प्राधिकार आपको अपने जमीनी विवाद सुलझा ने की सुविधा प्रदान कर रहा है. प्राधिकार के विशेष मध्यस्थ और अधिवक्ता तकरीबन 6 माह में ही पुराने से पुराने विवादों को सुलझा लेते हैं. यदि कोई पक्ष प्राधिकार के निर्णय को नहीं मानता है तो उसकी न्यायालय में नकारात्मक छवि बनती है. जमीनी विवाद सुलझाने के लिए आपको प्राधिकार के समक्ष एक आवेदन देकर अपील की जा सकती है. 

इसमें मध्यस्थता के लिए आपको किसी प्रकार का शुल्क नहीं देना पड़ेगा. जिला विधिक सेवा प्राधिकार विशेषज्ञ मध्यस्थ और अधिवक्ता की फीस स्वयं अपनी ओर से भुगतान करता है. खास बात यह भी है कि प्राधिकार के माध्यम से निपटाए गए मामलों को अपनी अदालत में भी चैलेंज नहीं किया जा सकता है. 

रांची : झारखंड प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय 2 साल में देगा एमसीए की डिग्री

इस संबंध में जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव अभिषेक कुमार बताते हैं कि मध्यस्थता विवादों को समझाने का वैकल्पिक माध्यम है जो सस्ता और सुलभ है. विवादों के निपटारे में किसी प्रकार का खर्च नहीं होता है. बिना रिश्ता बिगाड़े पक्षकारों का विवाद सुलझा लिया जाता है.

 

अन्य खबरें