CM सोरेन के काफिले पर हमला करने वाले मुख्य आरोपी भैरव ने कोर्ट में किया सरेंडर

Smart News Team, Last updated: Thu, 7th Jan 2021, 3:00 PM IST
  • सोमवार को रांची के हरमू किशोरगंज में सीएम हेमंत सोरेन के काफिले पर हमला करने वाले मुख्य आरोपी भैरव सिंह ने गुरुवार को कोर्ट में सरेंडर कर दिया. इस हमले में सीएम के काफिले के काफी आगे चल रही रोड ओपनिंग पायलट वाहन के शीशे भी टूट गए थे.
सीएम काफिले के मुख्य आरोपी भैरव सिंह ने कोर्ट में किया सरेंडर. ( सांकेतिंक फोटो )

रांची: सोमवार को झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के काफिले पर हमला करने वाले मुख्य आरोपी भैरव सिंह ने गुरुवार को कोर्ट में सरेंडर कर दिया. शहर के हरमू किशोरगंज इलाके में भैरव सिंह और कुछ अज्ञात लोगों ने सीएम के काफिले के काफी आगे चलने वाले रोड ओपनिंग पायलट वाहन के शीशे को भी तोड़ दिए थे जिसमें सीएम सोरेन बाल-बाल बच गए. हमले के बाद आरोपी पिछले चार दिनों से फरार चल रहा था. इस हमले में सुरक्षाकर्मियों ने सूझबूझ से सीएम सोरेन को मुख्यमंत्री आवास पहुंचाया.

कया था मामला

रविवार को रांची के जगलों में एक युवती की सिरकटी लाश मिली थी. इसको लेकर कुछ लोग  प्रदर्शन कर रहे थे. प्रदर्शन के दौरान लोगों ने मुख्यमंत्री सोरेन के काफिले को रोकने की कोशिश की. जिसमें सीएम काफिलें की एक गाड़ी के शीशे टूट गए. इसी हंगामे में एक ट्रैफिक इंस्पेक्टर भी घायल हो गया, जिससे रांची के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया. पुलिस ने मामले में 30 लोगों को गिरफ्तार किया गया. जबकि लगभग 150 लोगों के खिलाफ सुखदेवनगर थाने में एफआईआर दर्ज की गई.

झारखंड बिजली खरीद के त्रिपक्षीय करार से हुआ अलग, एग्रीमेंट एकतरफा बताया

नहीं हो सकी युवती की पहचान

युवती की सिरकटी लाश ओरमांझी थानाक्षेत्र के कुचचु पंचायत के जीराबर में साईं नाथ यूनिवर्सिटी के पीछे जंगल से बरामद हुई. जानकारी के अनुसार लाश पर कोई कपड़ा नहीं था. पुलिस के अनुसार युवती की आयु लगभग 20 से 22 साल की बताई गई है. लेकिन अबतक उसकी पहचान नहीं हो सकी. पुलिस कटे सिर की तलाश में जुटी हुई है. वही युवती के प्राइवेट पार्ट पर गहरे जख्मों के निशान मिले थे जिससे आंशका लगाई जा रही है कि, रेप करने के बाद युवती की हत्या को अंजाम दिया गया. हालांकि पुलिस इसको लेकर कुछ न बोल नहीं रही है.

CM हेमंत सोरेन काफिला हमला मामले में सुखदेवनगर और कोतवाली थाना प्रभारी सस्पेंड

ओरमांझी हत्याकांड में पुलिस अब तक नहीं खोज पाई सिर, ईनाम राशि अब 50 हजार

अन्य खबरें