रांची के बड़े ठेकेदार और Ex MLA संकटेश्वर सिंह के दामाद अरविंद सिंह की हत्या

Smart News Team, Last updated: 10/12/2020 04:24 PM IST
  • भावनाथपुर में एक होटल में नृत्य कार्यक्रम के दौरान चली गोली से रांची के बड़े ठेकेदार अरविंद सिंह की मौत हो गई है. गोली उनके जांघ में लग गई थी. करीबी उन्हें अस्पताल ले गए लेकिन ज्यादा खून बह जाने से उनकी मौत हो गई. अरविंद सिंह ने झारखंड के तीन दर्जन से अधिक थानों के भवन का निर्माण करवाया है.
रांची के ठेकेदार और पूर्व विधायक संकटेश्वर सिंह के दामाद अरविंद सिंह की गढ़वा जिले के भवनाथपुर में एक बारात कार्यक्रम में गोली लगने से मौत हो गई है.

रांची. रांची के बड़े ठेकेदार और पूर्व विधायक संकटेश्वर सिंह के दामाद अरविंद सिंह की गढ़वा के भवनाथपुर में हत्या हो गई है. अरविंद सिंह एक शादी में शामिल होने भवनाथपुर गए थे जहां बारात में चल रहे नाच-गाना के कार्यक्रम में चली गोली ने उनकी जान ले ली. गोली अरविंद सिंह की जांघ में लगी थी और खून बहुत बह गया था. अस्पताल में डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. अरविंद सिंह भवन निर्माण विभाग के बड़े ठेकेदार थे और पुलिस के तीन दर्जन थाने उन्होंने बनाए थे. 

अरविंद सिंह मूल रूप से बिहार के औरंगाबाद के रहने वाले हैं. रांची में अरविंद के कई शोरूम भी हैं.  अरविंद एक बारात में शामिल होने भवनाथपुर गए थे. भावनाथपुर में एक होटल में डांस के कार्यक्रम के दौरान चली गोली से उनकी मौत हो गई. अरविंद सिंह के साथ रहे दोस्त और करीबी उन्हें अस्पताल ले गए लेकिन मौत की खबर सुनते ही गढ़वा में बॉडी को अस्पताल में छोड़कर भाग गए. मृतक की एक गाड़ी किसी ने रांची स्थित घर पर जाकर लगा दी और दूसरी गाड़ी को उनके ससुराल में छोड़कर भाग गए.

कृषि कानून की काट के लिए हेमंत सरकार ला सकती है झारखंड के किसानों के लिए नया बिल

अरविंद सिंह झारखंड के बड़े मजदूर नेता भागवत सिंह के बेटे हैं और रांची में हरमू के सहजानंद चौक के पास के रहने वाले है. अरविंद सिंह पूर्व विधायक संकेटेश्वर सिंह के दामाद हैं. पलामू के पांकी थाना क्षेत्र के निमाचक में उनकी ससुराल है. अरविंद मूल रूप से औरंगाबाद के दाउदनगर गोड़तारा के रहने वाले थे.

सेक्सटॉर्शन गैंग का खुलासा, अमीरों को फंसाकर ब्लैकमेल करती थीं लड़कियां

अरविंद बारात में जाने से पहले पलामू के निमाचक स्थित अपने ससुराल गए थे. वहां से फिर से भवनाथपूर गए थे. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है. मौके पर मौजूद करीबियों की भी खोज जारी है. पुलिस इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि अरविंद सिंह की मौत डांस में दुर्घटनावश चली गोली है या डांस की आड़ में साजिश के साथ हत्या को अंजाम दिया गया है.

HC का आदेश, 2 राज्यों में आवासीय पर रद्द होगा झारखंड मेडिकल कॉलेजों में नामांकन