रांची सर्राफा बाजार में कभी चमका तो कभी फीका पड़ा सोना व चांदी

Smart News Team, Last updated: 04/04/2021 08:45 AM IST
  • कोरोना संक्रमण के चलते पूरे सप्ताह सोने व चांदी की कीमत ऊपर नीचे होती रही. जिससे व्यापारियों में बेचैनी देखने को मिली. जिसके चलते ग्राहक असमंजस की स्थिति में आते हुए दिखाई दिए.
04 अप्रैल को सोने व चांदी के भाव

रांची. व्यापारियों ने अनुमान लगाया था कि इस बार त्यौहार व सहालग पर सोने व चांदी की कीमतों में अच्छी उछाल होगी. मगर संक्रमण से उनकी यह मंशा पूरी नहीं हो सकी और कीमतें घटती बढ़ती रहीं.

बीते 29 मार्च को 24 कैरट सोने की कीमत 45750 रही जबकि चांदी 66410 पर खुली. इसी तरह 30 मार्च को 45700 सोना तथा 66340 चांदी रही. 31 मार्च को सोना 44580 चांदी 65690 पर आकर रुक गई. एक अप्रैल को सोने में उछाल आया और सोना 44910 तथा उछाल के साथ चांदी 64620 रुपए हो गई. दो अप्रैल को सोना 45690 चांदी 65330 रही जबकि तीन अप्रैल शनिवार को सोना 45690 तथा चांदी 65330 पर रुक गई.

29 मार्च को 22 कैरट सोने की कीमत 41938 रही. इसी तरह 30 मार्च को 41892 सोना, 31 मार्च को सोना 40865 पर आकर रुक गई. एक अप्रैल को सोने में उछाल आया और सोना 41168, दो अप्रैल को सोना 41883 रही जबकि तीन अप्रैल शनिवार को सोना 41883 पर रुक गई.

पूरे सप्ताह चले उतार-चढ़ाव से व्यापारियों में खासी बेचैनी देखी गई. इस बार त्यौहार उनके लिए कुछ खास नही रहा क्योंकि सर्राफा बाजार ने अपनी चाल को स्थिर न रखते हुए उतार-चढ़ाव रखा. इसी तरह से सब्जी बाजार उतार-चढ़ाव के साथ खुलता हुआ दिखाई दिया. त्योहार व सहालग के समय सब्जी के दामों में जरूर तेजी आई जिससे किसानों को इसका फायदा मिला.

अन्य खबरें