फर्जीवाड़ा! एंटी क्राइम चेकिंग अभियान के नाम पर चल रहा ट्रैफिक पुलिस अभियान

Smart News Team, Last updated: Tue, 5th Jan 2021, 12:16 PM IST
  • रांची पुलिस एंटी क्राइम चेकिंग अभियान के नाम पर ट्रेफिक अभियान चला रही है. जिसके कारण पुलिस की अपराधियो को पकड़ नहीं पा रही है. 27 दिसंबर को डीजीपी ने राज्य में एंटी चैकिंग अभियान चलाने का आदेश दिया था.
ट्रैफिक पुलिस.( सांकेतिक फोटो )

रांची: झारखंड की राजधानी में प्रतिदिन दो से तीन घण्टे का विशेष एंटी क्राइम चेकिंग अभियान चल रहा है. चेकिंग अभियान का आदेश एसएसपी द्वारा दिया गया. लेकिन पुलिस चैकिंग के नाम पर ट्रैफिक पुल अभियान चलाने लगी है जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. एंटी क्राइम चेकिंग अभियान के दौरान पुलिस द्वारा अपराधियों को पकड़ने का कार्य दिया जाता है, लेकिन पुलिस हेलमेट और सीट बेल्ट नहीं लगाने वाले को पकड़ती है. 27 दिसंबर को डीजीपी ने एंटी क्राइम चेकिंग अभियान का आदेश दिया था.

पुलिस के द्वारा चैकिंग अभियान के दौरान हर चौक-चौराहा पर जाम लग जाता है. सबसे बड़ी यह है कि चैकिंग अभियान के दौरान ट्रैफिक पुलिस के जवान भी अभियान में शामिल हो जाते है. ट्रैकिंग जवान यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले पर नजर रखने लगते हैं. पुलिस के एक अधिकारियों ने बताया कि एंटी क्राइम चैकिंग के दौरान पुलिसकर्मी अपराधी, चोरी की बाइक और हथियारो को छोड़कर हेलमेट वालों के पीछे लग जाते है. लोगों ने कहा है कि पुलिस चैकिंग के नाम पर वाहन चालको को परेशान करती है. और जैसे ही लोगों को पता चलता है कि इस रास्ते पर चैकिंग हो रही है लोग अपना रास्ता बदल लेते है.

हेमंत सरकार का आदिवासी छात्रों को तोहफा, विदेश में उच्च शिक्षा की कर सकेंगे पढ़ाई

27 दिसंबर को आदेश जारी करने के बाद डीजीपी ने चैकिंग अभियान के निरीक्षण किया, तो पाया कि चैकिंग में थानेदार तो शामिल नहीं है. जिसके बाद डीजीपी ने एसएसपी से वार्तलाप की. वार्तालाप के बाद एसएसपी ने थानेदारों को आदेश दिया है कि वह चैकिंग में मौजूद रहें. और समय-समय पर अपना फोटो भेजते रहे.

युवा संसद में अपनी वाक कला दिखाएंगे प्रतिभागी, 5 और 6 जनवरी को हो रहा आयोजन

रांची: दलबदल मामले में SC पहुंचे विधानसभा अध्यक्ष रबीन्द्र नाथ महतो

अन्य खबरें