रांची: स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 में टॉप-20 शहरों में आने का लक्ष्य तय, निगम तैयार

Smart News Team, Last updated: Sat, 30th Jan 2021, 8:44 AM IST
देश में एक मार्च से 4200 स्थानीय नगर निकायों (यूएलबी) के बीच स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 की शुरुआत हो रही है. साल 2020 में निगम स्वच्छ सर्वेक्षण में रांची देश भर में 30वें स्थान पर था. इस बार रांची नगर निगम ने शहर को टॉप-20 में आने का लक्ष्य तय किया है.
रांची: स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 में टॉप-20 शहरों में आने का लक्ष्य तय, निगम तैयार

रांची. देश में एक मार्च से 4200 स्थानीय नगर निकायों (यूएलबी) के बीच स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 की शुरुआत हो रही है. साल 2020 में निगम स्वच्छ सर्वेक्षण में रांची देश भर में 30वें स्थान पर था. इस बार रांची नगर निगम ने शहर को टॉप-20 में लाने का लक्ष्य तय किया है.

इसके लिए वार्ड सुपरवाइजर से लेकर जोनल अफसरों, सिटी मैनेजरों को ट्रेनिंग दी जा रही है. इस काम और अभियान की जिम्मेवारी खुद मेयर आशा लकड़ा ने ली हैं. शुक्रवार को मेयर आशा ने स्वच्छ सर्वेक्षण-2021 को लेकर निगम के स्वास्थय शाखा के अधिकारियों के साथ बैठक की. मीटिंग में उप नगर आयुक्त शंकर यादव, हेल्थ ऑफिसर डॉ किरण, सिटी मैनेजर बिजेंद्र सिंह और अन्य पदाधिकारी मौजूद थे. बता दें कि सर्वेक्षण में 42 स्थानीय नगर निकाय भाग लेंगे.

रांची: 24 घंटे में निगम करेगा सील, 06512200011 पर दें अवैध निर्माण की जानकारी

बैठक में मेयर आशा लकड़ा ने स्वास्थय शाखा को निर्देश दिया कि 10 फरवरी तक सफाई से जुड़ी सारी परेशानियों को दूर कर लिया जाए. इससे स्वच्छता सर्वेक्षण के निर्धारित मापदंडों को रांची नगर निगम मानक पूरा कर पाएगा. मेयर ने आगे बताया कि रांची नगर निगम क्षेत्र में डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन, टेक्निकल स्वीपिंग और मॉड्यूल टॉयलेट की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया है. यह भी कहा कि मार्च से पहले रांची शहर को सुंदर बनाना है. 

झारखंड: हेमंत सोरेन सरकार डोमिसाइल नीति- प्राइवेट नौकरी में 75% लोकल आरक्षण

आपको बता दें कि इस बार स्वच्छ सर्वेक्षण-2021, 28 मार्च तक चलेगा. यह सर्वेक्षण 600 नंबरों को हो रहा है. जिसमें कि सीटिजन फीडबैक से लेकर कचरा कलेक्शन और उसके निष्पादन के लिए अलग-अलग श्रेणियों में अंक दिए जाते हैं. सर्वेक्षण के दौरान केंद्रीय टीम आकर सर्वे करती है. नगर निगम के दावे की जांच-पड़ताल करती है.

अन्य खबरें