RPF की टीम ने 19 लड़कियों और 4 लड़कों को छुड़ाया, सभी को रांची भेजा गया

Smart News Team, Last updated: Fri, 30th Jul 2021, 2:59 PM IST
  • मूरी स्टेशन पर काम दिलाने के नाम पर मुंबई और गोवा ले जाई जा रही 19 लड़कियों और 4 लड़कों को आरपीएफ की टीम ने छुड़ाया है. पूछताछ के दौरान इनके पास से कोई वैधानिक दस्तावेज़ नहीं मिला.
आरपीएफ को कामयाबी

रांची: मूरी स्टेशन पर काम दिलाने के नाम पर मुंबई और गोवा ले जाई जा रही 19 लड़कियों और 4 लड़कों को आरपीएफ की टीम ने छुड़ाया है. पूछताछ के दौरान कोई वैधानिक दस्तावेज़ पेश ना कर पाने के कारण सभी को आरपीएफ चौकी पर लाया गया, जहां से उन्हें रांची कोतवाली भेज दिया गया है.

आरपीएफ निरीक्षक प्रभारी के नेतृत्व में अफसरों और जवानों की टीम ने रेलवे स्टेशन का औचक निरीक्षण किया. इस दौरान रांची-एलटीटी स्पेशल ट्रेन के इंतजार में बैठी 19 लड़कियों और 4 लड़कों पर नाबालिग होने का शक हुआ. आरपीएफ की टीम ने जब पूछताछ की तो पता चला कि 23 साल का तीर्थ राम बेदिया नाम का युवक सभी को अपने साथ काम दिलाने के नाम पर मुंबई होते हुए गोवा ले जा रहा है.

पेट्रोल डीजल आज 30 जुलाई का रेट: रांची, धनबाद, जमशेदपुर, बोकारो में नहीं बढ़े तेल के दाम

जब तीर्थ राम बेदिया से वैधानिक दस्तावेज़ मांगे गए तो वो उसे नहीं दिखा पाया. इसके बाद सभी को आरपीएफ चौकी लाया गया जहां मामले की छानबीन करने के बाद उन्हें रांची कोतवाली भेज दिया गया.

सर्राफा बाजार 30 जुलाई का रेट: रांची, जमशेदपुर, बोकारो, धनबाद में सोना चांदी स्थिर

आरपीएफ की टीम के लिए ये एक बड़ी कामयाबी है. आरपीएफ के सराहनीय कार्य की वजह से मुंबई और गोवा ले जाई जा रही इन लड़कियों को फिलहाल बचा लिया गया है.

 

अन्य खबरें