1 करोड़ का इनामी कुख्यात माओवादी प्रशांत बोस जमशेदपुर से गिरफ्तार

ABHINAV AZAD, Last updated: Fri, 12th Nov 2021, 2:26 PM IST
  • माओवादियों के ईस्टर्न रीजनल ब्यूरो के सचिव और 5 राज्यों के प्रमुख प्रशांत बोस को सरायकेला पुलिस ने जमशेदपुर से गिरफ्तार कर लिया है. प्रशांत बोस भाकपा माओवादी का पोलित ब्यूरो मेंबर भी है.
(प्रतीकात्मक फोटो)

रांची. माओवादियों के ईस्टर्न रीजनल ब्यूरो के सचिव प्रशांत बोस को गिरफ्तार कर लिया गया है. बताया जा रहा है कि जमशेदपुर से प्रशांत बोस को गिरफ्तार किया गया है. 5 राज्यों के प्रमुख प्रशांत बोस भाकपा माओवादी के पोलित ब्यूरो मेंबर हैं. साथ ही उस पर एक करोड़ का इनाम था. सरायकेला पुलिस ने जमशेदपुर से प्रशांत बोस को गिरफ्तार किया है.

मिली जानकारी के मुताबिक, सरायकेला के कुख्यात उग्रवादी महाराज प्रमाणिक की निशानदेही पर झारखंड पुलिस की टीम ने प्रशांत बोस को सरायकेला से दबोचा है. बताते चलें कि कुख्यात उग्रवादी महाराज अनऑफिशियली दो माह पहले झारखंड पुलिस के सामने सरेंडर कर चुका है. दरअसल, महाराज माओवादियों का जोनल कमांडर है. पुलिस ने उस पर 10 लाख रूपए का इनाम रखा था.

खुशखबरी! झारखंड के युवाओं को रोजगार के लिए मिलेगा लोन, सोरेन सरकार देंगी 25 लाख की आर्थिक मदद

सरायकेला ने प्रशांत बोस को उसकी पत्नी के साथ गिरफ्तार किया है. प्रशांत बोस पांच राज्यों का माओवादी प्रमुख है. उस पर पुलिस ने एक करोड़ का इनाम रखा था. बताया जा रहा है कि झारखंड पुलिस प्रशांत बोस को एक सप्ताह के बाद सामने लाएगी. प्रशांत बोस की गिरफ्तारी नक्सलियों के खिलाफ पुलिस की बड़ी कामयाबी मानी जा रही है. बताते चलें कि पुलिस ने एक करोड़ के इनामी नक्सली कमांडर प्रशांत बोस और उसकी पत्नी शीला मरांडी को जमशेदपुर से गिरफ्तार कर लिया है. प्रशांत बोस माओवादियों का पोलित ब्यूरो सदस्य है. हालांकि अधिकारिक तौर पर गिरफ्तारी की पुष्टि अभी नहीं हुई है, लेकिन सूत्रों का कहना है कि पुलिस और सुरक्षा एजेंसियां प्रशांत बोस से सुरक्षित ठिकाने पर पूछताछ कर रही है. प्रशांत बोस झारखंड-बिहार में माओवादियों का सुप्रीम कमांडर है.

अन्य खबरें