आरक्षण की मांग को लेकर सम्मेलन करेगा श्री कृष्ण विकास परिषद

Smart News Team, Last updated: Thu, 18th Feb 2021, 8:40 PM IST
  • अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों को 27 फ़ीसदी आरक्षण दिए जाने की मांग को लेकर श्री कृष्ण विकास परिषद ने सम्मेलन करने का निर्णय लिया है. संगठन की ओर से सम्मेलन के लिए जमशेदपुर और देवघर को चुना गया है.
आरक्षण की मांग को लेकर सम्मेलन करेगा श्री कृष्ण विकास परिषद (प्रतीकात्मक तस्वीर)

रांची : श्री कृष्ण विकास परिषद झारखंड के मुख्य संरक्षक कैलाश यादव ने बताया कि राज्य में 7 फ़ीसदी से अधिक आबादी अन्य पिछड़े वर्ग समुदाय के लोगों की है. राज्य में वंचितों के मौलिक अधिकारों का हनन रोकने के अलावा अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों को 27 फ़ीसदी आरक्षण दिए जाने की मांग संगठन लगातार करता चला आ रहा है. 

उन्होंने भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगाते हुए कहा कि झारखंड राज्य निर्माण के बाद बीजेपी ने एक साजिश के तहत तत्कालीन प्रथम मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के नेतृत्व में ओबीसी के कोटे का 27 फ़ीसदी आरक्षण में कटौती कर 14 फ़ीसदी करा दिया था. कहा की बीजेपी की इसी कुटिल नीति के कारण आज अन्य पिछड़े वर्ग के लोग बड़े पैमाने पर बेरोजगारी का सामना कर रहे हैं और शैक्षणिक आर्थिक व सामाजिक तौर पर उपेक्षित हो रहे हैं. कहा कि झारखंड राज्य में उनके साथ सौतेला व्यवहार अपनाया जा रहा है.

अब मेडिकल कॉलेज खोलेगा रांची विश्वविद्यालय

उन्होंने झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि जल्द ही ओबीसी को 27 फ़ीसदी आरक्षण देने का चुनावी वादा पूरा करें अन्यथा की स्थिति में राज्य भर में सभी जगहों पर संगठन द्वारा लोगों को जागरूक कर एक मजबूत आंदोलन संचालित किया जाएगा. उन्होंने बताया कि अपनी मांग को सरकार के समक्ष मजबूत करने के लिए राज्य के 24 जिलों में चरणबद्ध सम्मेलन किया जाएगा. इस क्रम में आगामी 21 मार्च को देवघर में संगठन के बैनर तले जिला सम्मेलन आयोजित किया जाएगा. उन्होंने स्वजातीय वर्ग से इस सम्मेलन में बढ़-चढ़कर प्रतिभाग करने की अपील की है.

राहुल पर दिए बयान को लेकर निशाने पर अठावले, कांग्रेस बोली- पद की गरिमा बनाए रखें

 

अन्य खबरें