10 लाख के इनामी नक्सली का रांची पुलिस के सामने आत्मसमर्पण, सर्च अभियान जारी

Smart News Team, Last updated: 23/02/2021 01:05 PM IST
  • 10 लाख के इनामी नक्सली जीवन कंडुलना उर्फ पतरस कंडुलना ने रांची पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया. कंडुलना चक्रधरपुर से खूंटी तक हुई कई नक्सली घटनाओं में आरोपी था.
इनामी नक्सली का सरेंडर

रांची: 10 लाख के इनामी नक्सली जीवन कंडुलना उर्फ पतरस कंडुलना ने रांची पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया. कंडुलना चक्रधरपुर से खूंटी तक हुई कई नक्सली घटनाओं में आरोपी था. चाईबासा पुलिस ने जीवन कंडुलना को पोड़ाहाट जंगल में उसे घेरने की योजना बनाई थी, लेकिन पुलिस के बढ़ते दबाव के कारण उसने रांची पुलिस से संपर्क करने के बाद सरेंडर कर दिया.

जीवन कंडुलना खूंटी में रनिया के जापुद गांव का रहने वाला बताया जा रहा है. उसने पिछले साल पुलिस पर तीर बम से हमला किया था. वर्तमान में वो पोड़ाहाट के जंगलों में रह रहा था. उसके आतंक का आलम ये था कि उसने 12 सालों से पुलिस की नाक में दम कर रखा था.

रांची: गैस के बढ़े दाम तो उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों ने सिलिंडर रिफिल कराना किया बंद

पश्चिमी सिंहभूम के गुदड़ी में हुई मुठभेड़ में पुलिस ने तीन महिला नक्सलियों को ढेर कर दिया था, लेकिन जीवन कंडुलना भागने में सफल रहा था. सर्चऑपरेशन में उस जगह से पुलिस को भारी मात्रा में विस्‍फोटक मिला था.

रांची सर्राफा बाजार में सोना चांदी के दामों में हुई बढ़ोतरी, आज का मंडी भाव

कंडुलना के नक्सली दस्ते में हमेशा 12 लोग रहते थे, लेकिन कुछ महीनों से खराब सेहत के कारण वो काफी परेशान था. उसे कई तरह की बीमारियों ने घेर लिया था. एक पैर में फाइलेरिया के कारण उसे चलने-फिरने में दिक्कत होती थी. उसे अंदेशा था कि अगर यही हालत रही तो एक न एक दिन पुलिस के हाथों उसकी मौत हो जाएगी. यही कारण है कि कंडुलना ने पुलिस के सामने सरेंडर करना बेहतर समझा. जीवन कंडुलना के सरेंडर के बाद पोड़ाहाट जंगल स्थित उसके ठिकानों में पुलिस का सर्च अभियान लगातार जारी है.

 

अन्य खबरें