वैलेंटाइंस पर महंगे गिफ्ट या सस्ते ऑफर के SMS आ रहे हैं तो पहले ये खबर पढ़ लें

Smart News Team, Last updated: 11/02/2021 09:21 PM IST
  • वैलेंटाइंस के मौके पर महंगे गिफ्ट्स और सस्ते ऑफर का लालच देकर साइबर हैकर्स आपके जीवनभर की कमाई पर सेंध लगाने की कोशिश में हैं.  अगर आपके पास भी किसी बड़े होटल में रुकने या डिनर के ऑफर के मैसेज पास आ रहे हैं तो सावधान हो जाएं.
ठगों ने वैलेंटाइन गिफ्ट के नाम पर भेजा लिंक, क्लिक करते ही खाते से उड़े पैसे (प्रतीकात्मक तस्वीर)

रांची. वैलेंटाइंस के मौके पर साइबर अपराधियों के निशाने पर इसबार प्रेमी जोड़े हैं. साइबर अपराधी लोगों को महंगे गिफ्ट्स और सस्ते ऑफर के लिंक भेज रहे हैं जिसको क्लिक करते ही बैंक खाते से पैसे उड़ जाते हैं. वैलेंटाइन गिफ्ट्स के नाम पर आने वाले किसी भी मैसेज या लिंक को क्लिक ना करें नहीं तो साइबर हैकर्स आपके बैंक अकाउंट से पैसे उड़ा सकते हैं जिसे आप अपने मोबाइल से ऑपरेट करते हों. 

वैलेंटाइंस गिफ्ट के नाम पर लोगों को लगातार ठगने का मामला सामने आने के बाद साइबर थाने से अलर्ट जारी किया गया है जिसमें बताया है कि अपराधी उन्हें बड़े होटल में रहने और महंगे डिनर का लालच दे रहे हैं. इन ऑफर्स के लालच में आने के कारण कई लोग ठगी का शिकार भी हो चुके हैं. 

मॉडलिंग का सपना पूरा करने के लिए पिता को दिया धोखा, अपहरण की साजिश रच मांगी फिरौती

बढ़ते साइबर अपराध पर साइबर डीएसपी सुमित प्रसाद ने बताया कि अपराधी बड़ी कंपनियों के ब्रांड का इस्तेमाल कर लोगों को नए ऑनलाइन ऑफर और तोहफों का लालच दे रहे हैं. इन ऑफर्स के जरिए बदमाश लोगों के बैंक अकाउंट में सेंध लगाने की कोशिश कर रहे हैं.  

पासपोर्ट बनवा रहे हैं तो कैसे कराएं ऑनलाइन पुलिस वेरीफिकेशन, जानें फुल डिटेल्स

साइबर थाना की तरफ से यह भी कहा गया है कि ऑनलाइन गिफ्ट देने और उसके लिंक्स फॉरवर्ड करने से पहले वह पूरी जांच कर लेनी चाहिए वरना अपनी पूंजी गंवा सकते हैं. साइबर थाना द्वारा जारी अलर्ट के अनुसार सर्च इंजन कस्टमाइजेशन में ऐसे लिंक पहले पायदान पर रहते हैं. इसलिए इन पर अपनी जानकारी साझा करने से पहले पूरी तरह से जांच कर लेनी चाहिए. 

रांची: दहेज प्रताड़ना के मामले में पूर्व DGP डीके पांडेय को हाईकोर्ट से मिली राहत

मुफ्त में गिफ्ट देने वाले ऑनलाइन शॉपिंग के झांसे में बिल्कुल ना फंसें. थाने की तरफ से लोगों को यह भी सलाह दी गई कि ऑफर वाले मैसेज पढ़े बिना ही उसे डिलीट कर देंं. वहीं अगर कोई लिंक आपके पास आया है तो उस पर क्लिक न करें. 

तेजप्रताप का नीतीश पर हमला-15 साल में जितने घोटाले हुए उतने वर्णमाला में वर्ण नहीं

अन्य खबरें