झारखंड लॉकडाउन: इन वाहनों को बिना ई-पास के भी चला सकेंगे, जानें सरकार के निर्देश

Smart News Team, Last updated: Fri, 14th May 2021, 9:11 PM IST
  • राज्य सरकार के परिवहन विभाग ने यह आदेश जारी किया है. साथ ही राज्य में रेलवे या हवाई यात्रियों के लिए उनका टिकट ही वैध ई-पास मान्य होगा. परिवहन विभाग ने यह भी निर्णय लिया है कि राज्य में बाहर से प्रवेश करनेवाले सभी निजी वाहन और टैक्सी के लिए ई-पास अनिवार्य होगा.
बाहर से आने वाले सभी निजी वाहन और टैक्सी के लिए ई-पास अनिवार्य होगा. (प्रतिकात्मक फोटो)

रांची- देश भर में कोरोना की दूसरी लहर का कहर जारी है. इस बीच झारखंड सरकार ने राज्य में गाड़ियों के परिचालन को लेकर गाइडलाइन जारी किया है. सरकार द्वारा जारी इस गाइडलाइन के मुताबिक राज्य में व्यावसायिक वाहनों के रूप में निबंधित टैक्सी, टेम्पो, ई-रिक्शा आदि का परिचालन बिना ई-पास के जरिए किया जा सकेगा. सरकार का तर्क है कि ऐसा करने से आने जाने वाले यात्रियों को सहूलियत होगी. बता दें कि ऐसे वाहनों का व्यावसायिक निबंधन प्रमाणपत्र ही ई-पास माना जाएगा.

बताते चलें कि राज्य सरकार के परिवहन विभाग ने यह आदेश जारी किया है. साथ ही राज्य में रेलवे या हवाई यात्रियों के लिए उनका टिकट ही वैध ई-पास मान्य होगा. परिवहन विभाग ने यह भी निर्णय लिया है कि राज्य में बाहर से प्रवेश करनेवाले सभी निजी वाहन और टैक्सी के लिए ई-पास अनिवार्य होगा. इसके अलावा निजी वाहनों के लिए जिले के अंदर भी आवाजाही के लिए पास अनिवार्य होगा.

कोरोना वैक्सीनेशन शुरू होने पर CM सोरेन बोले- अभी लड़ाई लड़नी है, हौसला बनाए रखे

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण फिलहाल झारखंड में बाहर से आने वाले लोगों के लिए 7 दिनों का क्वारंटाइन अनिवार्य किया है. बता दें कि अभी बाहर से आने वाले लोगों को झारखंड ट्रैवेल डॉट एनआइसी डॉट इन पर रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य होगा.

रांची में गायब हुईं दो लड़कियां मिलीं, एक का हुआ था अपहरण

CM हेमंत सोरेन ने सदर अस्पताल में PSA प्लांट का किया ऑनलाइन उद्घाटन

पेट्रोल डीजल आज 14 मई का रेट: रांची, धनबाद, जमशेदपुर, बोकारो में फिर महंगा हुआ तेल

झारखंड में 14 मई से 18 से ऊपर वालों को लगेगी कोरोना वैक्सीन, जानें कैसे करे रजिस्ट्रेशन

झारखंड में शुरू हुआ 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों का टीकाकरण, जिलों को दिए गए 179800 कोबीशिल्ड टीके

अन्य खबरें