यूपी में फंसे मजदूर ट्रेन से पहुंचे रांची, अगवा हुई दो महिलाओं की खोज जारी

Smart News Team, Last updated: Wed, 7th Jul 2021, 12:11 AM IST
  • उत्तर प्रदेश के देवरिया में एक ईंट भट्ठे पर काम करने वाले झारखंड के आदिवासी मजदूर और उनके बच्चे ट्रेन मौर्य एक्सप्रेस से रांची पहुंच गए हैं. इन श्रमिकों का हटिया रेलवे स्टेशन पर विधायक बंधु तिर्की ने स्वागत किया. एक मजदूर की पत्नी (तीन छोटे बच्चे की मां) और एक अन्य महिला को अगवा कर लिया गया है.
रांची पहुंचे मजदूर

रांची. उत्तर प्रदेश के देवरिया में एक ईंट भट्ठे पर काम करने वाले झारखंड के आदिवासी मजदूर और उनके बच्चे ट्रेन मौर्य एक्सप्रेस से रांची पहुंच गए हैं. रांची के हटिया रेलवे स्टेशन पर इन श्रमिकों का विधायक बंधु तिर्की ने स्वागत किया. 

यूपी लौटने के क्रम में एक मजदूर की पत्नी (तीन छोटे बच्चे की मां) और एक अन्य महिला को अगवा कर लिया गया है. इसको लेकर श्रम विभाग एफआईआर दर्ज कराएगी.  रांची लौटे इन मजदूरों ने शिकायत की थी कि उनके काम का भुगतान नहीं किया गया और उनसे अमानवीय ढंग से भी काम लिया जा रहा है.मजदूरों ने ईंट भट्टा मालिक पर बंधक बनाए जाने की भी शिकायत की थी. 

अगवा की गई महिला के बच्चे

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन तक जब यह शिकायत पहुंची तो उन्होंने ने अफसरो को कार्रवाई करने के आदेश दिए थे. इसके बाद राज्य प्रवासी नियंत्रण कक्ष और फिया फाउंडेशन ने देवरिया के जिलाधिकारी से संपर्क कर मामले की जानकारी दी. जिलाधिकारी की टीम पहुंची और उसने मजदूरों का भुगतान कराकर घर लौटना सुनिश्चित कराया.

आपको बता दें कि जानकारी के मुताबिक जनवरी में श्रमिक काम की तलाश में यूपी आए थे. देवरिया जिले के रामपुर कारखाना थानाक्षेत्र के मुंडेरा गांव स्थित रजत ईंट भट्ठे में इन्हें ठेकेदार ने काम पर लगा दिया. मजदूरों का कहना है कि पिछले छह महीने से काम करने के बाद भी बकाया करीब सात लाख रुपये नहीं मिले. भट्ठे पर साफ सफाई नहीं रहने के कारण मजदूरों के बच्चे भी बीमार रहने लगे थे. भट्ठे पर काम करने वाले किसी मजदूर ने झारखंड की स्वयंसेवी स्वंयसेवी संस्था के पदाधिकारी दो दिन पहले सूचना दी थी. जिसके बाद ही यह सब हो सका.

अन्य खबरें