रांची में आज से खुले किसानों के लिए जिले में खुले 23 धान क्रय केंद्र

Smart News Team, Last updated: 01/12/2020 04:52 PM IST
  • रांची में 1 दिसंबर से किसानों के लिए धान क्रय केंद्र खुल गए हैं जहां किसान अपनी धान की फसल की कटाई कर सरकरा द्वारा तय मूल्यों पर बेच सकते हैं. किसानों को इन केंद्रो पर फसल की बिक्री पर राज्य सरकार द्वारा तय बोनस भी मिलता है. 
धान की फसल (सांकेतिक चित्र)

रांची. जिले के किसानों के लिए आज से धान क्रय केंद्र खुल गए हैं.  जिले के इन केंद्रों पर जाकर किसान अपनी धान की फसल को बेच सकते हैं. गौर हो कि पिछले कुछ दिनों से रांची में मौसम भी साफ है. जिसे धान की कटाई के अनुकूल माना जा रहा है. इससे पहले पिछले सप्ताह आसमान पर बादल छाने की वजह से किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें दिखाई देने लगीं थीं. 

रांची जिले में 23 धान क्रय केंद्र बनाए गए हैं. इसके साथ ही छह राइस मिल को भी धान प्राप्त करने के लिए जिला प्रशासन की ओर से मंजूरी दी गई है.  डीसी छवि रंजन के निर्देश पर जिला आपूर्ति पदाधिकारी, जिला गोदाम प्रबंधक और जिला सहकारिता पदाधिकारी ने विभिन्न प्रखंडों के धान अधिप्राप्ति केंद्रों का निरीक्षण किया. इस दौरान अधिकारियों ने नामकुम, ओरमांझी और सिल्ली प्रखंड का भ्रमण कर धान अधिप्राप्ति केंद्रों का निरीक्षण कर तैयारियों का जायजा लिया. 

रांची: आरक्षण में बदलाव के लिए समिति बनाएगी सोरेन सरकार

केंद्र सरकार ने साधारण किस्म के धान के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य 1868 रुपए प्रति क्विंटल और ग्रेड-ए धान की कीमत 1888 रुपए प्रति क्विंटल निर्धारित किया है. वहीं, झारखंड सरकार ने राज्य के धान उत्पादित किसानों को प्रति क्विंटल 182 रुपए बोनस देने की घोषणा भी की है. उल्लेखनीय है कि राज्य के धान उत्पादित किसानों को साधारण किस्म के धान के लिए प्रति क्विंटल 2050 रुपए मिलेंगे, जबकि ग्रेड-ए किस्म के धान के लिए 2070 रुपए प्रति क्विंटल रुपए किसानों को दिए जाएंगे.

अन्य खबरें