दिव्यांगों की निशुल्क शिक्षा को राज्य भर में खुलेंगे 8 आवासीय स्कूल

Smart News Team, Last updated: 15/12/2020 04:36 PM IST
  • झारखंड सरकार ने दिव्यांग जनों की निशुल्क शिक्षा के लिए पूरे राज्य में 8 आवासीय स्कूल खोले जाने का निर्णय लिया है. नए शैक्षणिक सत्र में अपने पूरे स्वरूप में नजर आने वाले 89 विद्यालयों में टीचरों और कर्मचारियों की नियुक्तियों के साथ ही पठन-पाठन की पुस्तकों का इंतजाम करना शुरू कर दिया गया है.
झारखंड सरकार ने दिव्यांग जनों की निशुल्क शिक्षा के लिए पूरे राज्य में 8 आवासीय स्कूल खोले जाने का निर्णय लिया है

रांची . बता दें कि झारखंड राज्य का गठन हुए 20 वर्ष हो चुके हैं. 20 वर्षों में किसी भी सरकार ने दिव्यांग बच्चों के निशुल्क शिक्षा को लेकर गंभीर कदम नहीं उठाए थे. अब राज्य की हेमंत सोरेन सरकार ने दिव्यांग जनों के लिए निशुल्क शिक्षा हेतु पूरे राज्य में आज आवासीय स्कूल संचालित करने का निर्णय लिया है. इन स्कूलों में दिव्यांग बच्चों को निशुल्क शिक्षा प्रदान की जाएगी. यही नहीं ऐसे बच्चों को सरकार की ओर से निशुल्क पाठ्य पुस्तकें कापियां और शिक्षण कार्य संबंधी सभी सामग्री मुफ्त में दी इन स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों की रहने और खाने की व्यवस्था भी सरकार की ओर से मुफ्त में उपलब्ध कराई जाएगी. फिलहाल इन स्कूलों में एक प्रभारी प्रधानाध्यापक के साथ ही पांच टीचरों को संविदा पर नियुक्त करने का निर्णय लिया गया है.

प्रधाना अध्यापक और टीचरों की नियुक्ति की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है. इसके अलावा स्कूलों में कर्मचारियों की नियुक्ति भी संविदा पर की जाएगी. अगले शिक्षा सत्र से शुरू होने वाले दिव्यांग जनों के इस निशुल्क आवासीय स्कूल के प्रथम चरण में राज्य के 50-50 छात्रों को प्रवेश दिया जाएगा.इन स्कूलों में प्रवेश के लिए कोई परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी.

3.38 करोड़ रुपए से चमकेगा एचईसी का नेहरू पार्क

इस संबंध में निशक्तता आयुक्त सतीश चंद ने बताया कि शासन से दिव्यांग जनों के लिए निशुल्क स्कूल खोले जाने का आदेश प्राप्त हो गया है. बताया कि अगले शैक्षिक सत्र में इन स्कूलों में शिक्षण कार्य प्रारंभ करा दिया जाएगा.

अन्य खबरें