कई सालों बाद हरियाली तीज पर बनने वाला है शिव पूजा का ये बेहतरीन संयोग

Smart News Team, Last updated: Tue, 10th Aug 2021, 9:04 AM IST
  • 11 अगस्त को इस बार हरियाली तीज है. ये व्रत सुहागिनें अपनी पति की लंबी आयु की कामना करते हुए रखती हैं. इस दिन जो भी विधि- विधान से व्रत रखता है, और पूजा करता है भगवान शिव पर उनकी कृपा बरसती है. ऐसे में इस बार कई सालों को बाद हरियाली तीज के दिन विशेष योग बनने बन रहा है.
11 अगस्त को है हरियाली तीज

हरियाली तीज की गिनती सावन महीने में आने वाले व्रत त्योहार में से अहम में होती है. इस व्रत को बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण माना जाता है. पौराणिक कथाओं  पर गौर करें तो ऐसा माना जाता है कि इस दिन शिव और पार्वती का पुनर्मिलन हुआ था. इस दिन सुहागिनें इस व्रत को बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण मानती हैं. सुहागिनें इस दिन सोलह श्रृंगार कर नई- नवेली दुल्हन की तरह सजती हैं, जिसके बाद वो विधि-विधान से शिव और पार्वती की पूजा करते हुए व्रत रखती हैं. हरियाली तीज का व्रत रखते हुए महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र की भगवान से कामना करती हैं.  इस साल हरियाली तीज बुधवार यानी 11 अगस्त को मनाया जाने वाला है.

इस दिन बन रहा है ये बेहद ही खास योग

बेहद ही खास इस साल का हरियाली तीज माना जा रहा है. क्योंकि इस बार हरियाली तीज के दिन ही शिव योग भी बन रहा है. इससे बहुत ही अनूठा संयोग कहा जा सकता है. मालूम हो प्रमुख 27 योगों में से शिव योग को सबसे ज्यादा कल्याणकारी और प्रमुख बताया गया है. जो भी इस योग में पूजा-पाठ करता है, उसे कई गुना ज्यादा पुण्य की प्राप्ति होती है. इतना ही नहीं बल्कि ये भी कहा जाता है कि जो लोग इस योग में पूजा करते हैं उनका दांपत्य जीवन खुशियों से भर जाता है. लंबे समय के बाद एक बार फिर से ये योग बन रहा है.

11 अगस्त को है हरियाली तीज, व्रत का पुण्य चाहिए तो भूलकर भी ना करें ये काम

ये है हरियाली तीज का शुभ मुहूर्त

11 अगस्त को ये व्रत रखा जाने वाला है, इस दिन पूजा के लिए जो मुहूर्त शुभ माना जा रहा है.

सुबह 4 बजकर 24 मिनट से 5 बजकर 17 मिनट तक ब्रह्म मुहूर्त है

दोपहर 2 बजकर 30 मिनट से 3 बजकर 7 मिनट तक विजया मुहूर्त है

नवविवाहित महिलाओं के लिए इस व्रत को काफी खास बताया गया है. इस दिन महिलाएं मेहंदी लगवाती हैं, हरी चूड़ियां पहनती हैं और हरे रंग के कपड़े पनने की परंपरा है.

अन्य खबरें