इन पिकनिक स्पॉट्स पर आइए नई साल की खुशियां मनाइए

Smart News Team, Last updated: Tue, 29th Dec 2020, 6:36 PM IST
  • कोरोना संक्रमण काल और व्यस्ततम जीवन की आपाधापी के कारण यदि आप कहीं बाहर घूमने नहीं जा पा रहे हैं तो उदास ना हो, राजधानी रांची के आसपास भी कई ऐसे प्राकृतिक पर्यटन स्थल है जहां पर जाकर आप अपने परिवार सहित नए साल की खुशियां मना सकते हैं.
पिकनिक स्पॉट्स जहाँ आप मना सकते नया साल

रांची. नया साल आने में अब चंद रोज ही शेष है, कोरोना संक्रमण काल में इस नए साल को आप अपने अंदाज में मना सकते हैं. राजधानी रांची और झारखंड राज्य में कई ऐसी जगह है जहां आप नए साल का आनंद उठा सकते हैं. इनमें कुछ प्राकृतिक पर्यटन स्थल ऐसे भी है जो पूरी तरह विकसित तो नहीं है लेकिन प्रकृति की गोद में बसे यह पर्यटन स्थल परिवार सहित पिकनिक बनाने के लिए बेहद खूबसूरत हैं.

पलावी वाटरफॉल का अपना विशेष ही महत्व है. पतरातु लेक से 4 किलोमीटर दूर दाहिनी ओर पलावी वाटरफॉल मौजूद है. यह स्थान पूरी तरह से जंगल और पहाड़ों से घिरा हुआ है. यहां पहुंचने के लिए कच्ची सड़क है. नए साल का जश्न इस स्थान पर भी मनाया जा सकता है. इन्हीं में से एक पिपराजारा का झरना भी है जो अपनी प्राकृतिक खूबसूरती के लिए जाना जाता है. राजधानी रांची से पतरातु जाते वक्त राड़हा पुल के दानी तरफ रास्ते से करीब 2 किलोमीटर अंदर पिपराजारा टोली है. इस स्थान से करीब 1 किलोमीटर अंदर जाकर एक खूबसूरत झरना है जो पूर्ण रूप से प्रकृति के बीच में है. यह भी आप लोगों के लिए अच्छा पिकनिक स्पॉट साबित हो सकता है.

यही नहीं नई साल पर जश्न के लिए ओरमांझी के ग्रीन वाटर पाउंड भी पिकनिक के लिए सुंदर स्थान है. यह रांची से 30 किलोमीटर दूर ग्रीन मांझी में ग्रीन वाटर पाउंड मौजूद है. यहां पहुंचने के लिए चंदवे चौक से कुट्टू की तरफ जाकर दाहिने और मुड़कर 3 किलोमीटर की दूरी पर यह स्थान है. यह स्थान देखने में बेहद खूबसूरत है. इसके अलावा नए साल के जश्न के लिए आप चुरीन फाल भी जा सकते हैं यह राजधानी रांची से 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. इसका रास्ता टाटीसिलवे से करीब 4 किलोमीटर आगे जाने पर बेहया नामक गांव से दाएं और मुड़कर जाता है. यह पूरी तरह प्रकट की गोद में बसा हुआ पर्यटन स्थल है. इस फाल में ऊंचाई से पानी को गिरता हुआ देखना मन को सुकून पहुंचाता है. यह पिकनिक स्पोर्ट्स नए साल का जश्न मनाने के लिए आपके जेब पर भी भारी नहीं पड़ेंगे.

अन्य खबरें