नए साल पर पहाड़ी बाबा का जलाभिषेक कर सकेंगे श्रद्धालु

Smart News Team, Last updated: Fri, 6th Aug 2021, 3:08 PM IST
  • नई साल पर श्रद्धालुओं को बाबा पहाड़ी के दर्शन करने के लिए कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए शासन की ओर से जारी की गई गार्डलाइन का कड़ाई से पालन करना होगा. इसको लेकर बुधवार को बाबा पहाड़ी मंदिर समिति की बैठक हुई.
मुख्य पुजारी मनोज मिश्र ने बताया कि नई साल पर प्रथम पूजा प्रातः 4:30 बजे से प्रारंभ होगी

रांची. बैठक में लिए गए निर्णयों की जानकारी देते हुए मंदिर के मुख्य पुजारी मनोज मिश्र ने बताया कि नई साल पर प्रथम पूजा प्रातः 4:30 बजे से प्रारंभ होगी. सुबह 6:30 बजे मंदिर का पट श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया जाएगा. उन्होंने बताया कि मास्क लगाकर आने वाले श्रद्धालुओं को भी दर्शन की अनुमति दी जाएगी. मुख्य गेट पर हैंड सैनिटाइजर मशीन लगाई गई है. प्रवेश से पहले श्रद्धालु अच्छी तरह से अपने हाथों को सैनिटाइज करेगा बाद इसके ही मंदिर में प्रवेश कर सकेगा.

नए साल के पहले दिन ऐतिहासिक पहाड़ी बाबा मंदिर में कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार पूजा अर्चना की जाएगी. बताया कि पूजा के दौरान शारीरिक दूरी का पालन किया जाएगा. पहाड़ी बाबा का अरघा सिस्टम से जलाभिषेक किया जाएगा. मुख्य मंदिर मैं चारों ओर चार अरघा लगाए जाएंगे. एक बार में 10 श्रद्धालुओं को ही मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा. एक श्रद्धालु के मंदिर से बाहर निकलने पर ही दूसरे सद्दालू को प्रवेश मिलेगा. उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रसाद चढ़ाना व भोग वितरण करने पर प्रतिबंध रहेगा.

मंदिर के कोषाध्यक्ष अभिषेक आनंद ने बताया कि दर्शन के दौरान दीप अगरबत्ती आग जलाने पर कोई रोक नहीं होगी लेकिन जलाभिषेक के दौरान फूल पत्ती चढ़ाने पर प्रतिबंध लगाया गया है. यही नहीं मंदिर कमेटी है पूजा के दौरान शिवलिंग को छूने पर भी पाबंदी लगाई है. उन्होंने बताया कि मंदिर में 38 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. इन कैमरों से निगरानी की जाएगी. दर्शन के दौरान पुरुष व महिला पुलिसकर्मियों की तैनाती रहेगी. वही साल के पहले तन्हाई बुजुर्गों व दिव्यांगों को आसानी से दर्शन कराने के लिए लाइन नहीं लगानी पड़ेगी. ऐसे लोगों को मंदिर के स्वयंसेवक बाबा पहाड़ी के दर्शन कराएंगे.

अन्य खबरें