Diwali: धनतेरस के दिन भूल कर भी न करें ये गलती, भगवान धन्वन्तरि हो जाएंगे नाराज

Priya Gupta, Last updated: Sun, 17th Oct 2021, 8:37 AM IST
  • धनतेरस के दिन धन के लिए इस दिन कुबेर की पूजा की जाती है और आरोग्य के लिए धनवन्तरि की पूजा की जाती है.
धनतेरस के दिन भूल कर भी न करें ये गलती

दिवाली के एक दिन पहले धनतेरस मनाया जाता है. धनतेरस पर नए बर्तन या सोने, चांदी के आभूषण खरीदना शुभ माना जाता है. इस साल त्रयोदशी 2 नवंबर रात 09:30 से अगले दिन 3 नवंबर शाम 05:59 तक रहेगा. धनतेरस का पर्व धन और आरोग्य से जुड़ा हुआ है. धन के लिए इस दिन कुबेर की पूजा की जाती है और आरोग्य के लिए धनवन्तरि की पूजा की जाती है. लेकिन इस दिन काफी चीजों का ध्यान रखना होता है. इसलिए इस दिन भूल कर भी इन चीजों को न करें.

घर में खराब सामन

वैसे तो दिवाली से पहले लोग घरों की साफ़ सफाई करते है. अगर धनतेरस के दिन घर में कूड़ा-कबाड़ या खराब सामान बिखरा हुआ हो तो घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश नहीं होगा. इसलिए धनतेरस से पहले ही ऐसा सामान बाहर निकाल दें.

घर के मुख्य द्वार पर ऐसी सामान बिलकुल ना रखे जो बेकार हो. मुख्य द्वार को नए अवसरों से जोड़कर देखा जाता है. माना जाता है कि घर के मुख्य द्वार से ही लक्ष्मी का आगमन होता है इसलिए इस स्थान को हमेशा साफ़ रखना चाहिए.

Chhath Puja Prasad Recipe: ठेकुआ प्रसाद के बिना अधूरी मानी जाती है पूजा, जानें बनाने की विधि

ऐसा कहा जाता है कि कुबेर के साथ माता लक्ष्मी और भगवान धन्वंतरि की भी उपासना जरूर करें वरना पूरे साल बीमार रहेंगे. कहा जाता है कि इस दिन शीशे के बर्तन नहीं खरीदने चाहिए. इस दिन सोने चांदी या नए बर्तन खरीदन को अत्यंत शुभ माना जाता है.

धनतेरस के दिन लक्ष्मी घर आती है इस लिए इस दिन किसी को भी उधार ना दें. ऐसा करने से आप पर देनदारी और कर्ज का भार पड़ सकता है. यह भी धयान रहे कि इस दिन नकली मूर्तियों की पूजा ना करें. सोने चांदी या मिट्टी की बनी मां लक्ष्मी की मूर्ति की पूजा करें.

अन्य खबरें