रांची: रिम्स में बर्दाश्त नहीं होगी चिकित्सकों की कोताही, रोज शाम को होगी बैठक

Smart News Team, Last updated: Wed, 18th Nov 2020, 3:36 PM IST
  • रिम्स के नए निदेशक डॉ. कामेश्वर प्रसाद ने सभी चिकित्सकों को ड्यूटी का पाबंद बनाने के लिए सख्ती शुरू कर दी है. इसके लिए शाम को पांच बजे वरीय चिकित्सक रोजाना बैठक करेंगे और दैनिक कार्यों की समीक्षा करेंगे.
रिम्स के नई निदेशक ने वरीय चिकित्सों को रोज शाम को बैठक करने के लिए कहा है

रांची. रिम्स में चिकित्सकों की ओर से ड्यूटी पर कोताही बरतने का कड़ा नोटिस लिया गया है. रिम्स के वरीय चिकित्सकों की कोताही अब बर्दाश्त नहीं की जाएगी. इस संबंधी रिम्स के नए निदेशक पद्मश्री डॉ. कामेश्वर प्रसाद ने सख्त कदम उठाए हैं. उनके मुताबिक सभी चिकित्सकों की पहली प्राथमिकता मरीजों की सेवा और मरीजों का इलाज होना चाहिए. इसके बाद ही डॉक्टर दूसरे काम के बारे सोचें. सुबह 9 से 1 बजे और 3 से 5 बजे शाम तक मरीजों का ओपीडी टाइम निर्धारित है, लेकिन कई बार ऐसा देखा जाता है कि डाक्टर शाम 5 बजे से पहले ही ड्यूटी से गायब होते हैं.

नए निदेशक पद्मश्री डॉ. कामेश्वर प्रसाद ने इस समस्या संबंधी मंगलवार को अधिकारियों के साथ बैठक भी की. जिसके बाद उन्होंने आदेश जारी किया कि वह हर दिन शाम 5 बजे वरीय चिकित्सकों के साथ बैठक करके दैनिक कार्यों की समीक्षा करेंगे. इसका फायदा मरीजों को मिलेगा. हर दिन शाम 5 बजे बैठक के लिए चिकित्सक अस्पताल में रहेंगे और इस दौरान निर्धारित समय तक मरीजों का इलाज करेंगे.

रांची सर्राफा बाजार में सोने में आई कमी चांदी में 1730 रुपए आया उछाल

डॉ. कामेश्वर प्रसाद ने कहा कि जिन चिकित्सकों की ओर से निर्देशों का पालन नहीं किया जाएगा, उन पर कार्रवाई की जाएगी. हर रोज शाम पांच बजे जो बैठक होगी, उसका नामकरण भी रखा गया है. मरीज हित सर्वोपरि के तहत यह बैठक होगी। गौर हो कि पूर्व निदेशक डॉ. डीके सिंह ने भी रिम्स के सभी चिकित्सकों के बीच क्लीनिकल सोसायटी की बैठक शुरू कराई थी लेकिन कोरोना के चलते यह पूरी तरह खत्म हो गई. अब यह देखना है कि नए निदेशक द्वारा रोजाना बुलाई गई बैठक के नतीजे कितने कारगर साबित होते हैं.

अन्य खबरें