झारखंड: स्वीट कोर्न की खेती से बदले किसान के दिन, कम लागत में बड़ा मुनाफा

Smart News Team, Last updated: Thu, 14th Jan 2021, 5:25 PM IST
  • पारंपरिक तरीके से मक्के की खेती करने वाले रामवृक्ष महतो और उनका परिवार अब स्वीट कॉर्न की खेती कर रहा है. बाजार में भी उनके फसल की बेहद मांग है. कमाई अच्छी होने से परिवार की आर्थिक स्थिति तो सुधरी ही है बल्कि आसपास के इलाके में किसानों के लिए रामवृक्ष महतो नजीर बन कर उभर रहे हैं.
झारखंड: स्वीट कोर्न की खेती से बदले किसान के दिन, कम लागत में बड़ा मुनाफा

रांची: झारखंड के एक किसान और उसके बेटे ने जब ट्रेनिंग लेकर स्वीट कोर्न की खेती शुरू की तो शायद उन्हें भी नहीं मालूम था कि वे इलाके के दूसरे किसानों के लिए एक उदाहरण बन जाएंगे. जी, हां स्वीट कोर्न की खेती ने किसान के परिवार के दिन ही बदल दिए. जानिए कैसे ?

लोहरदगा जिले के सेन्हा प्रखंड क्षेत्र के रामनगर गांव में रहने वाले किसान रामवृक्ष महतो और उनके पुत्र हेमंत महतो पहले सामान्य किसानों की तरह सामान अनाज की फसलें ही उगाया करते थे. इससे उन्हें इतनी आमदनी नहीं होती थी कि परिवार के लोगों की इच्छाओं को पूरा किया जा सके. 

रामवृक्ष को इस दौरान रांची की एक मदर डेयरी संस्था के बारे में जानकारी मिली जो किसानों को आधुनिक तरीके से खेती का तरीका बताने का काम करती थी. लगभग 3 साल पहले रामवृक्ष अपने पुत्र हेमंत के साथ मदर डेयरी से जुड़ गए और उन्होंने राजधानी रांची के पिस्का मोड़ पर स्थित कृषक प्रशिक्षण केंद्र में प्रशिक्षण प्राप्त किया. 

महिलाएं नहीं है शराब पीने के मामले में पीछे, कोरोना काल में बढ़ा चलन

प्रशिक्षण में बताई गई जानकारी के अनुसार उन्होंने स्वीट कार्न की खेती करने का निर्णय लिया. इस बाबत उन्होंने प्रगतिशील किसानों से स्वीट कॉर्न फसल की बारीकियों को समझ कर अपने खेत में भी इसी फसल को तैयार करने को लेकर कदम बढ़ा दिया. 

रामवृक्ष बताते हैं कि स्वीट कॉर्न की खेती करने के लिए उन्हें प्रशिक्षण के बाद संस्था की ओर से खाद बीज और दवा भी उपलब्ध कराया गया. पहली साल संस्था ने ही स्वीट कॉर्नर को 11 रुपये प्रति किलो की दर से खरीद लिया. आमदनी भी समझ में आई. हौसला भी बढ़ा तो अब वह अपनी पूरी जमीन पर स्वीट कॉर्नर की खेती कर रहे हैं.

मिनटों में चुरा ली घर के बाहर खड़ी मारुति ब्रेजा, CCTV कैमरे में कैद पूरी चोरी

रामवृक्ष ने बताया कि आज वे 3 एकड़ की भूमि पर स्वीट कार्य की खेती कर रहे हैं 1 एकड़ स्वीट कॉर्न फसल के उत्पादन पर 40 हजार का खर्च आता है. उसके सापेक्ष प्रति एकड़ उन्हें डेढ़ लाख रुपए का मुनाफा हो रहा है जो करीब चार गुना ज्यादा है.

अन्य खबरें