अब आईटीआई संचालित करेंगे कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम से जुड़े शिक्षण संस्थान

Smart News Team, Last updated: 03/12/2020 09:46 PM IST
  • कौशल विकास मिशन कार्यक्रम को श्रम विभाग से संबंध करने के बाद अब झारखंड सरकार ने औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों यानी आईटीआई को कौशल विकास मिशन के तहत प्रशिक्षण देने वाली संस्थानों के हवाले करने का निर्णय लिया है. सरकार के इस निर्णय से ग्रामीण क्षेत्रों के युवाओं को कौशल प्रशिक्षण सुलभता से उपलब्ध होगा.
फाइल फोटो

रांची . औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों को कौशल विकास मिशन से संबद्ध प्रशिक्षण संस्थानों को 100 पर जाने को लेकर बुधवार को बैठक हुई. इसमें आईटीआई में सरकारी पाठ्यक्रम के अनुरूप तकनीकी शिक्षा के संचालन पर विचार विमर्श किया गया. निर्णय भी लिया गया कि औद्योगिक संस्थानों को कौशल विकास मिशन से संबद्ध प्रशिक्षण संस्थानों के देखरेख में संचालित किया जाए.

बैठक की जानकारी देते हुए श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग के सचिव प्रवीण टोप्पो ने बताया कि प्रशिक्षण सेवा प्रदाताओं को आईटीआई में सेवा इंजीनियरिंग एवं विनिर्माण क्षेत्र में गुणवत्तापूर्ण तकनीकी शिक्षा सुनिश्चित कराने के निर्देश जारी किए गए हैं. उन्होंने बताया कि संस्थानों को व्यवसायिक शिक्षा राज्य समिति द्वारा पंजीकृत भी कराया जाएगा. यही नहीं आईटीआई में नामांकन में निर्धारित सीटों पर सरकार के निर्माण कुल आरक्षण सुविधा इंस्टिट्यूट मैनेजमेंट कमेटी आदि का गठन भी किया जाएगा.

रांची: टूरिज्म क्षेत्र में 75 हजार लोगों को रोजगार देगी सोरेन सरकार

बैठक में निदेशक प्रशिक्षण नेहा अरोड़ा ने बताया कि कौशल विकास केंद्रों की परिकल्पना ग्रामीण स्तर पर विनिर्माण एवं सेवा क्षेत्र पर आधारित है. बताया की औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों को कौशल विकास के हवाले करने से ग्रामीण क्षेत्रों को युवाओं को कौशल प्रशिक्षण आसानी से उपलब्ध हो सकेगा. उन्होंने बताया कि हाल ही में भवनाथपुर रमना सिमरिया इटखोरी मनका बरियातू बड़कागांव बिष्णुगढ़ चैनपुर हरिहरगंज जरीडीह गांव मे नई कौशल विकास केंद्र खोले गए हैं.

अन्य खबरें