अब विश्व हिंदू परिषद ने की इतिहास रचने की तैयारी

Smart News Team, Last updated: 04/12/2020 10:37 PM IST
  • अपने संगठन को और अधिक मजबूत बनाने के लिए अधिक से अधिक राम भक्तों को जोड़ने को लेकर विश्व हिंदू परिषद ने इतिहास रचने की तैयारी कर ली है. विश्व हिंदू परिषद की ओर से 55 करोड़ राम भक्तों से संपर्क कर इतिहास बनाने की दिशा में काम करना शुरू कर दिया गया है.
फाइल फोटो

रांची. बता दें कि विश्व हिंदू परिषद अयोध्या में बन रहे राम मंदिर निर्माण के लिए पूरे देश में धन संग्रह करने का अभियान शुरू करने जा रहा है. विश्व हिंदू परिषद की ओर से यह अभियान अब तक के दुनिया का सबसे बड़ा जन जागरण अभियान बनाने की योजना तैयार की गई है. विश्व हिंदू परिषद की ओर से पूरे देश के लगभग चार लाख गांवों के 11 करोड़ परिवारों के सहयोग से अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण कराने का निर्णय लिया गया है. विश्व हिंदू परिषद ने अभियान की समय सीमा 44 दिन निर्धारित कर नए साल की मकर संक्रांति यानी 15 जनवरी से शुरुआत करने की रूपरेखा तय कर ली है.

विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल बताते हैं कि यह राष्ट्र मंदिर कश्मीर से कन्याकुमारी और अटक से कटक तक राष्ट्रीय एकता को मजबूत करेगा. उन्होंने बताया कि इससे पहले 1989 में राम मंदिर शिला पूजन के माध्यम से देश के 2.75 लाख गावों तक विश्व हिंदू परिषद ने संपर्क किया था. उक्त संपर्क अभियान के दौरान संगठन की ओर से 6 करोड़ परिवारों से संपर्क किया गया था. उन्होंने बताया कि इसको लेकर शुक्रवार को पटना के केशव सरस्वती विद्या मंदिर में एक बैठक होगी.

रांची यूनिवर्सिटी में 15 से 17 दिसंबर तक असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए साक्षात्कार

इस बैठक में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह भैया जी जोशी, श्री राम तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, संगठन के केंद्रीय संगठन मंत्री विनायक राव देशपांडे के अलावा क्षेत्रीय संगठन मंत्री केशव राजू के साथी प्रांतीय स्तर के संघचालक कार्य वाह-वाह प्रचारक शामिल होंगे. उन्होंने बताया कि इस संपर्क अभियान मैं 10 और 100 के कूपन लोगों को देकर सहयोग राशि प्राप्त की जाएगी.

अन्य खबरें