विदेशियों को लुभा रही कपड़ों पर बनी झारखंड की सोहराय और टिकुली लोक कला की चित्र

Smart News Team, Last updated: 12/12/2020 11:48 AM IST
  • दिल्ली, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश बिहार उड़ीसा आदि राज्यों में अपनी धाक जमाने के बाद झारखंड राज्य के सोहराई, टिकुली और मधुबनी लोक कला की चित्रकारी वाले कपड़े अब विदेशियों को भी लुभाने लगे हैं. 
मधुबनी लोक कला की चित्रकारी वाले कपड़े अब विदेशियों को भी लुभाने लगे हैं

रांची . बता दें कि कामिनी सिन्हा राजधानी रांची के बूटी मोर पर रहती हैं. पढ़े-लिखे परिवार से ताल्लुक रखने वाली कामिनी सिन्हा पहले तो विशुद्ध रूप से ग्रहणी थी. हालांकि उन्होंने चित्रकारी का शौक बचपन से ही अपने मन में पाल रखा था. इस शौक को व्यवसाय के रूप में परिवर्तित करने करने को कामिनी ने निर्णय लिया तो उनके परिवार ने इसकी इजाजत नहीं थी किंतु कामिनी ने हिम्मत नहीं हारी. परिवार वालों को जानकारी दिए बगैर कामिनी ने इस क्षेत्र में पहले चोरी छुपे काम करना शुरू किया. जैसे-जैसे दिन बीते सफलता कामनी के दामन में आती चली गई. आज पहले की कामिनी सेना पूरी तरह बदल चुकी है और बदल चुकी है उनके परिवार की आर्थिक स्थिति.

कामिनी सिन्हा बताती है कि व्यवसायिक क्षेत्र में पहले तो संघर्ष का दौर शुरू हुआ. दो 4 साल की मेहनत के बाद बाजार से उन्हें आर्डर मिलने लगे, फिर सब कुछ ठीक होने लगा. कामिनी ने बताया कि चित्रकारी को व्यवसाय के रूप में अपनाने पर उन्होंने कपड़े पर झारखंड राज्य की सोहराय, टिकुरी और मधुबनी लोक कला की चित्रकारी उकेरना शुरू किया. जिसे शुरुआती दौर में ही बाजार में पसंद किया जाने लगा. पहचान बनी तो धंधा भी चल निकला. आज स्थिति यह है कि वह साड़ी बेडशीट कुशन कवर स्टॉल दुपट्टा वैस्टकोट क्लच बैग के अलावा घर के सजावट के सामान पर भी चित्रकारी करके अच्छा खासा मुनाफा कमा रही हैं.

अब 12 दिसंबर को ऑनलाइन सजेगा लोक अदालत का दरबार

उन्होंने बताया कि उनके पास दिल्ली मध्य प्रदेश उत्तर प्रदेश बिहार उड़ीसा आदि प्रांतों से तो आदर प्राप्त हो ही रहे हैं वही झारखंड राज्य में घूमने को आने वाले विदेशी सैलानियों को भी उनके उत्पाद बहुत पसंद आ रहे हैं. झारखंड के पसंदीदा स्थल घूमने के बाद अपने देश लौट चुके विदेशियों से भी उनके पास लगातार आर्डर मिल रहे हैं. कामिनी अपने सफलता का मूल मंत्र के बारे में बताते हैं कि मनोयोग से काम करें तो सफलता भी पुरजोर मिलती है.

अन्य खबरें