रांची : मुसीबत से बचाएंगे राजधानी में लगे इमरजेंसी कॉल बॉक्स

Smart News Team, Last updated: Wed, 30th Dec 2020, 6:01 PM IST
  • राजधानी के लोगों को मुसीबत के समय त्वरित सहायता उपलब्ध कराने के उद्देश्य से नगर निगम की ओर से लगाए गए इमरजेंसी कॉल बॉक्स यानी ईसीबी ने काम करना शुरू कर दिया है. इस ईसीबी में लगे बटन को दबाने से किसी भी मुसीबत में यह आम लोगों को त्वरित मदद मुहैया कराएगा.
ईसीबी में लगे बटन को दबाने से किसी भी मुसीबत में यह आम लोगों को त्वरित मदद मुहैया कराएगा.

रांची:राजधानी रांची क्षेत्र में 50 इमरजेंसी कॉल बॉक्स लगाए गए हैं. यदि आपको आपातकालीन स्वास्थ्य सेवा चाहिए अथवा पूरे राजधानी शहरी क्षेत्र में यदि आप का वाहन चोरी हो गया हो या फिर कहीं आग लग गई हो तो आप इमरजेंसी काल बॉक्स का बटन दबाइए. आप की सूचना सीधे कंट्रोल रूम में अधिकारी गढ़ सुनेंगे और फौरी तौर पर मदद मुहैया कराएंगे.

राजधानी रांची के चौक चौराहों पर इन इमरजेंसी काल बॉक्स को स्थापित किया गया है. इसका एकमात्र उद्देश्य आपातकाल के समय पीड़ित को तुरंत सहायता उपलब्ध कराना है. पीले रंग के इमरजेंसी कॉल बॉक्स मैं एक बटन लगा हुआ है. बटन को दबाने से आपकी बात कंट्रोल रूम के प्रतिनिधि से होगी. आपको किस प्रकार की सहायता चाहिए कंट्रोल रूम में बैठा प्रतिनिधि फोन घुमा कर आपको उसी प्रकार की सहायता चंद समय में उपलब्ध कराएगा. राजधानी रांची के लोगों को इस सुविधा का लाभ देने के लिए एक कमांड कंट्रोल एंड कम्युनिकेशन सेंटर भी स्थापित किया गया है.

इस सेंटर को बनाने में 165 करोड रुपए की धनराशि खर्च की गई है. इस सेंटर माध्यम से राजधानी रांची की यातायात व्यवस्था को संभालने में सक्रिय भूमिका तो निभाएगा ही साथ ही ट्रैफिक को स्मार्ट बनाने के लिए 40 चौराहों पर सेंसर युक्त सिग्नल भी लगाए गए हैं. ट्रैफिक लोड की छमता के अनुसार ही यह सिग्नल लाल या हारे होंगे. यह सेंटर राजधानी रांची में दौड़ रहे वाहनों की स्पीड पर भी नजर रखेगा. इसके लिए चौराहों पर एक विशेष कैमरा लगाया गया है जो वाहन का नंबर प्लेट लीड करेगा. अगर कोई वाहन एक्सीडेंट करके भाग रहा होगा तब उसका नंबर डिटेक्ट हो जाएगा. या सिग्नल तोड़ कर जाने वाले वाहन को भी आसानी से पकड़ा जा सकेगा.

इस सेंटर के माध्यम से पूरे शहर की गतिविधियों पर भी नजर रखी जा सकेगी. इसके लिए राजधानी रांची के 64 महत्वपूर्ण स्थानों पर सीसीटीवी सर्विलेंस कैमरे लगाई गई है. यह कैमरे लंबी दूरी तक निगाह रखने में सक्षम तो है ही वही 360 डिग्री तक मुंह भी कर सकते हैं. इमरजेंसी कॉल बॉक्स के साथ कमांड कंट्रोल एंड कम्युनिकेशन सेंटर के चालू हो जाने से निश्चित तौर पर किसी भी मुसीबत में यह आम लोगों का सहारा बनेगा.

अन्य खबरें