रांची : प्रचुर इम्यूनिटी का जोर, कोरोना पड़ रहा कमजोर

Smart News Team, Last updated: 04/12/2020 09:17 PM IST
  • हाल ही में झारखंड सरकार की ओर से कोरोना संक्रमण को लेकर चलाए गए विशेष जांच अभियान के नतीजे सुखद निकल कर सामने आए हैं. स्वास्थ्य विभाग के विशेषज्ञों की माने तो राज्य में विशेष जांच अभियान के दौरान आम लोगों में हार्ड इम्युनिटी विकसित होने के संकेत मिले हैं.
Corona

रांची. बता दें कि झारखंड सरकार ने पूरे राज्य में रविवार को कोरोना को लेकर विशेष जांच अभियान कराई थी. इस जांच अभियान के दौरान राज्य भर के कुल 1.06 लाख लोगों की कोरोना टेस्टिंग कराई गई. अब इन लोगों की टेस्ट रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग को प्राप्त हो गई है. रिपोर्ट में विशेष जांच अभियान के दौरान कुल परीक्षण किए गए लोगों के सापेक्ष मात्र 198 लोग ही कोरोना पॉजिटिव पाए गए. जबकि राज्य में सामान्य जांच डिप्सों में कुल परीक्षण के सापेक्ष 1: 50 से 3:00 फ़ीसदी लोगों में ही संक्रमण के लक्षण प्राप्त हो रही थे.

विशेष जांच अभियान के दौरान 6 जिले जिनमें चतरा गिरिडीह खूंटी कोडरमा लोहरदगा तथा पाकुड़ जिले में एक भी व्यक्ति करुणा संक्रमित नहीं पाया गया. वही देवघर धनबाद दुमका गढ़वा गोड्डा गुमला हजारीबाग लातेहार पलामू रामगढ़ साहिबगंज में दो-दो व्यक्तियों में कोरोना के लक्षण पाए गए. इसी तरह सराय केला खरसावां सिमडेगा तथा पश्चिमी सिंहभूम में कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या 10 से भी कम पाई गई. स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी की गई विशेष जांच अभियान की रिपोर्ट आम लोगों के साथ ही सरकार को भी सुकून देने वाली साबित हो रही है.

झारखंड HC ने हेमंत सोरेन सरकार से छात्रवृत्ति घोटाले में मांगा जवाब

झारखंड के राष्ट्रीय स्वास्थ्य अभियान के निदेशक रवी शंकर शुक्ला बताते हैं कि राज्य में हार्ड इम्यूनिटी विकसित हो गई है. इसकी पुष्टि सिरों सर्वे में भी की जा सकती है. उधर चिकित्सकों के संगठन आई एम ए झारखंड के अध्यक्ष डॉक्टर ए के सिंह कहते हैं कि राज्य के लोगों में हार्ड इम्यूनिटी विकसित हो गई है. उन्होंने बताया कि राज्य में कोरोना वायरस के कमजोर पड़ने के दो कारण हो सकते हैं पहला यहां के लोग संक्रमण को लेकर जागरूक है और दूसरा इनमें हार्ड इम्यूनिटी का विकसित हो जाना है.

अन्य खबरें