वाराणसी: 18+ के लिए तय समय से पहले खुली टीकाकरण पंजीकरण साइट, चंद मिनटों में बुक स्लॉट

Smart News Team, Last updated: Mon, 17th May 2021, 12:59 PM IST
  • वाराणसी में 18 साल से ऊपर के लोगों को कोरोना टीकाकरण आवेदन करने वाली वेबसाइट को रात 8 बजे के बजाए सुबह 10 ही खोल दिया गया. ऐसा करने से टीकाकरण स्टॉल बुक करने के लिए इंतजार कर लोगों को निराशा का सामना करना पड़ा. वेबसाइट खुलने के करीब 40 मिनट में करीब 30 हजार लोगों ने रजिस्ट्रेशन करा लिया.
वाराणसी में कोरोना टीकाकरण के लिए महज 40 मिनट में सभी स्टॉल बुक.( सांकेतिक फोटो )

वाराणसी: देश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बाद लोगों को कोविड इंफेक्शन से बचाने के लिए सरकार ने 18 से 44 के बीच की आयु के लोगों का टीकाकरण शुरू करा दिया है. वैक्सीनेशन के लिए लोगों ऑनलाइन स्लॉट बुक करना पड़ रहा है. वाराणसी में टीकाकरण स्लॉट के आवंटन में एक नया खेल सामने आया है. तय समय से पहले वेबसाइट खोलने से अगले एक हफ्ते के टीकाकरण स्लॉट बुक हो गए. इसके बाद टीकाकरण के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहे लोगों के निराशा का सामना करना पड़ा. लोगों ने प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की कार्यशैली पर नाराजगी जताई.

यूपी में बढ़ते कोरोना केस के बाद वर्तमान में 18 से 44 वर्ष के बीच के लोगों को टीकाकरण को लेकर काफी डिमांड है. ऑनलाइन माध्यम से लोगों को लोगों को रजिस्ट्रेशन और टीकाकरण केंद्र चयन के सुविधा दी गई है. जिले में पहले एक-एक दिन का स्लॉट बुक किया जा रहा था. लेकिन 12 मई से स्टॉल को तीन दिन के लिए बुक किया जाने लगा. जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा और स्वास्थ्य विभाग ने स्लॉट बुकिंग के लिए रात आठ बजे का समय निर्धारित किया था लेकिन शनिवार की सुबह 10 वेबसाइट के टीकाकरण पंजीकरण के लिए खोल दिया गया. लेकिन अगले 40 में ही सभी स्टॉल बुक हो गए. पोर्टल के प्रभारी अधिकारी अनुराग सिंह ठाकुर ने बताया पहली बार सभी स्टॉल बुक होने में इतना समय लगा है.

योगी सरकार का फैसला, कोरोना से मरने वालों के अंतिम संस्कार के लिए देगी 5000 रुपए

लोगों में दिखी नाराजगी

टीकाकरण के लिए रात 8 बजे वेबसाइट खोलने के आदेश के बाद प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने सुबह 10 वेबसाइट को लॉच कर दिया. जिसके कारण वैक्सीनेशन के केवल 40 मिनट में सभी स्टॉल बुक हो गए. हफ्ते भर से इंतजार कर रहे लोगों को निराशा का सामना करना पड़ा. डॉ. वीएस राय, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी व नोडल अधिकारी (टीकाकरण) ने कहा, कि शासन की ओर से शनिवार की रात वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में पोर्टल सुबह खोलने का आदेश जारी किया गया था.

गंगा किनारे बसे इन लोगों को शव का दाह संस्कार करने पर मिलेंगे इतने हजार रुपए

UP के अस्पतालों में कोरोना मरीजों से हुई अवैध वसूली तो खैर नहीं, CM योगी का आदेश

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें