वाराणसी: चार होटलों में एक्टर, प्रोड्यूसर, डायरेक्टर समेत फिल्म यूनिट के 150 लोग दो दिन से बंधक

Shubham Bajpai, Last updated: Sat, 13th Nov 2021, 1:49 PM IST
  • वाराणसी के चार होटलों पर एक्टर सुकेश आनंद समेत फिल्म यूनिट के डेढ़ सौ लोगों को बंधक बनाने का आरोप है. दो दिन से बंधक बनी यूनिट ने सीएम योगी के ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर इसकी शिकायत की थी. शिकायत के बाद मौके पर पुलिस पहुंची. वहीं, होटल मालिकों का आरोप है कि यूनिट पर करीब 20 लाख का भुगतान बाकी है.
वाराणसी: चार होटलों में एक्टर, प्रोड्यूसर, डायरेक्टर समेत फिल्म यूनिट के 150 लोग दो दिन से बंधक

वाराणसी. शहर में चार होटलों पर एक फिल्म यूनिट के डेढ़ सौ लोगों को बंधक बनाने का आरोप है. इस यूनिट में एक्टर सुकेश आनंद भी शामिल है. होटल स्क्वायर इन, मदीन, क्रिस्टीन और होटल सिल्क सिटी होटल पर दो दिन से बंधक बनाने का आरोप लगाते हुए टीम ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट में शिकायत की. जिसके बाद मौके पर भारी पुलिस बल पहुंच गया. वहीं, इस मामले में होटल मालिकों का कहना है कि करीब 20 लाख रुपये होटल पर बकाया है. बिना भुगतान किसी को नहीं जाने दिया जाएगा.

15 अक्टूबर से टीम कर रही वाराणसी में शूटिंग

फिल्म यूनिट की टीम 15 अक्टूबर से शहर में शूटिंग कर रही है. इस दौरान वो होटल में रह रही थी, लेकिन होटल मालिकों के अनुसार भुगतान न होने की वजह से वो सभी को रोक के रखा गया है. होटल में फिल्म यूनिट के लोगों के साथ यूनिट का करीब 3 करोड़ रुपये का शूटिंग का सामान भी रखा हुआ है.

वाराणसी: सपा पूर्व विधायक के बेटे पर लंका थाने में केस दर्ज, बीवी ने कहा धोखे से की शादी

सुकेश का आरोप प्रोड्यूसर ने नहीं किया भुगतान

एक्टर सुकेश आनंद का आरोप है कि प्रोड्यूसर ने उनको व पूरी टीम को जिसमें कैमरामैन, डायरेक्टर, एक्टर और मेकअप मैन समेत सभी लोगों को होटल में ठहराया गया था. होटल का भुगतान नहीं होने से हम सभी को दो दिन तक बंधक के तौर पर रखा गया है. यूनिट तीसरे शिफ्ट की शूटिंग करने आई थी, लेकिन शूटिंग से पहले ही भुगतान को लेकर खींचतान शुरू हो गई. जिससे शूटिंग रुक गई. वहीं, प्रोड्यूसर इलियास सैय्यद भुगतान को लेकर कोई बात होटल मालिकों से स्पष्ट नहीं कर रहे हैं जिसकी वजह से बंधक बने हुए हैं.

अमित शाह की रैली में भीड़ जुटाने के DM ने PWD से दिलवाए 40 लाख? रिपोर्ट में दावा

बातचीत के माध्यम से लोगों को निकलवाने का किया जा रहा प्रयास

एडीसीपी वरुणा जोन प्रबल प्रताप सिंह ने बताया कि अभी इस मामले को लेकर दोनों पक्षों में बातचीत की जा रही है. भुगतान को लेकर विवाद है. मामला सुलढाकर लोगों को निकालने की कोशिश की जा रही है. वहीं, यूनिट की ओर से लिखित शिकायत मांगी गई है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें