बैंक मैनेजर की समझदारी से रुकी ठगी, 25 लाख रूपए की लॉटरी का दिया था लालच

Smart News Team, Last updated: Fri, 8th Jan 2021, 4:34 PM IST
  • इलाहाबाद बैंक शाखा के मैनेजर की सूझ-बूझ से नाबालिग छात्रा के साथ ठगी होने से बच गई. जालसाज ने नाबालिग छात्रा को 25 लाख रुपए का लालच दिया गया था. युवती को लालच दिया गया था कि हमारे बैंक अकाउंट में पैसा डाल दे उसके बदलें में उसे लोटरी की राशि दी जाएगा. इस लालच में युवती ने पैसे जमा करवा दिये जिसके बाद बैंक मैनेजर को सूचना मिलते ही युवती के पैसों को बचा लिया.
इलाहाबाद बैंक शाखा के मैनेजर की सूझ-बूझ से नाबालिग छात्रा के साथ ठगी होने से बच गई.

वाराणसी. शुक्रवार को मिर्जामुराद क्षेत्र के बेनीपुर गांव स्थित इलाहाबाद बैंक शाखा के मैनेजर की सूझ-बूझ से नाबालिग छात्रा के साथ ठगी होने से बच गई. जालसाज ने नाबालिग छात्रा को 25 लाख रुपए का लालच  दिया गया था. युवती को लालच दिया गया था कि हमारे बैंक अकाउंट में पैसा डाल दे उसके बदलें में उसे लोटरी की राशि दी जाएगा. इस लालच में युवती ने पैसे जमा करवा दिये जिसके बाद बैंक मैनेजर को सूचना मिलते ही युवती के पैसों को बचा लिया.

जूनियर हाईस्कूल की छात्रा अंजली पुत्री रामसूरत को फोन आया कि ऑनलाइन खरीददारी करने पर 15 लाख रूपए का ईनाम मिला है. इन पैसे के लिए पहले आपको एक अकाउंट में 14 हजार रूपए डालने होंगे. इसके बाद इसी अकाउंट से आपको 25 लाख रूपए डाल दिये जाएगें. इन्हीं पैसों के लालच में युवती ने बिना घर वालों को बताए 14 हजार रूपए अकांउट में डलवा दिये. 

वाराणसी: मडुवाडीह थानाध्यक्ष हुए लाइन हाजिर, वहीं SP ग्रामीण का हुआ तबादला

मामले का पता जब युवती की मां को चला तो वो बैंक पहुंच गई. मां ने रोते हुए युवती ने सारी बात बैंक मैनेजर को बताई. इस फ्रॉड की जानकारी ब्रान्च मैनेजर अजय कुमार लगी तो उन्होंने इस पर तुरंत कार्रवाई. उन्होंने बैंक ब्रांच से जालसाज के अकाउंट को ब्लॉक कर दिया. इसके कारण युवती से ठगी होने से बच गई और पैसा जालसाज के पास जाने से रूक गया. 

काम पर जा रहे बाइक सवार सिविल इंजीनयर को ट्रैक्टर ने कुचला, मौत, ड्राइवर अरेस्ट

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें