BHU में BNYAS के छात्र इंटर्नशिप और भत्ते को लेकर धरने पर बैठे, भेदभाव का आरोप

Smart News Team, Last updated: Fri, 6th Aug 2021, 10:02 AM IST
  • बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय (BHU) के केंद्रीय कार्यालय पर बैचलर ऑफ नेचुरोपैथी एंड योगा साइंस (BNYAS) के छात्रों ने शुक्रवार को अपनी मांगों को लेकर धरना किया. छात्रों की दो मांगें हैं. पहला इंटर्नशिप नौ महीने की हो. दूसरी मांग-भत्ता दिया जाए.
BHU में BNYAS के छात्र इंटर्नशिप और भत्ते को लेकर धरने पर बैठे, भेदभाव का आरोप

वाराणसी. बीएचयू के केंद्रीय कार्यालय पर बैचलर ऑफ नेचुरोपैथी एंड योगा साइंस (BNYAS) के छात्रों ने शुक्रवार को अपनी मांगों को लेकर धरना किया. बीएनवाईएस के छात्र आला एप्रेन के साथ हाथों में तख्तियां लेकर धरने पर बैठ गए. 

धरने पर बैठे छात्र अश्वनी कुमार मिश्र ने बताया कि हमारी दो मांगें हैं. पहला इंटर्नशिप नौ महीने की हो जिसमे कि बाल रोग, आपात चिकित्सा, शल्य रोग और मानस रोग इंटर्नशिप पोस्टिंग में लगाई जाए. यह सब पढ़ाने के बाद भी इसमें पोस्टिंग नहीं की जा रही है. दूसरी मांग- भत्ता दिया जाए. हम एमबीबीएस और बीएमएस के इंटर्न छात्रों के बराबर काम करते हैं. उन्हें भत्ता मिलता है जबकि हमें नहीं दिया जाता.

छात्रों का कहना है कि हम वार्ड और ओपीडी में मरीजों की सेवा करते हैं. नौ घंटे ड्यूटी करते है. फिर भी हमें भत्ता नहीं दिया जाता. एमबीबीएस और बीएमएस के छात्रों को पैसे मिलते है तो हमें क्यों नहीं? 

बैचलर ऑफ नेचुरोपैथी एंड योगा साइंस के छात्रों का आरोप हैं कि पूरे देश के हर नेचुरोपैथीक मेडिकल कॉलेज में स्टाइपेंड दिया जाने का प्रावधान है. तमिलनाडु, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक के प्रत्येक मेडिकल कॉलेज में भत्ता दिया जाता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें