वाराणसी: BHU में छात्रावास खुलवाने की मांग को लेकर भीड़े विवि प्रशासन और छात्र

Smart News Team, Last updated: 04/12/2020 07:54 AM IST
बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के छात्रों ने हॉस्टल खुलवाने के लिए हंगामा किया. छात्रों ने प्रशासन पर आरोप लगाया है कि यूनिवर्सिटी यूजीसी की गाइडलाइन का पालन नहीं कर रही है. कोरोना काल के बाद विश्वविद्यालय के आचार्य नरेंद्रदेव और राजा राममोहन राय छात्रावास अभी भी बंद है.
बीएचयू में छात्रों ने हॉस्टल खुलवाने के लिए हंगामा किया

वाराणसी: बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय ( बीएचयू ) में छात्रावास खोलने की मांग लेकर गुरुवार को लगभग सौ छात्र हॉस्टल में घुस गए. छात्रो का आरोप है कि यूजीसी की गाइंडलाइन के बाद भी छात्रावास नही खोले गए. जिसके कारण छात्रों का बाहर रहना पड़ रहा है. जिससे उनकी पढ़ाई में काफी दिक्कते आ रही है. हॉस्टल में घुससे विद्यार्थी को वार्डेन ने काफी समझाया लेकिन छात्रों ने छात्रावास से बाहर निकलने से मना कर दिया. जिसके बाद छात्रावास के गेट पर ताला लगा दिया गया. जिसके बाद हंगामा कर दिया.

गुरुवार को बीएचयू के आचार्य नरेंद्रदेव और राजा राममोहन राय छात्रावास में छात्र घुस गए. छात्रो का कहना है कि कोरोना के बंद हुए हॉस्टल के कारण छात्रो को बाहर रहना पड़ रहा है. जिससे उन्हें काफी समस्याओ का सामना करना पड़ रहा है. हॉस्टल से बाहर रहने के कारण उन्हें ऑनलाइन क्लास करने में भी काफी दिक्कत हो रही है. इंटरनेट कनेक्टिविटी खराब होने के कारण अक्सर उनकी क्लास छूट जा रही है. छात्रावास में छात्रों की घुसने की सूचना पर पहुंचे वार्डेन ने छात्रों को समझाया. उन्होंने ताला खोल कर छात्रों से बाहर निकलने को कहा, लेकिन छात्रों का कहना था कि वे बाहर जाने के लिए नहीं बल्कि हॉस्टल में रहने के लिए आए हैं.

वाराणसी में पुलिस कस्टडी से लापता बीएचयू छात्र की कोर्ट ने माँगी जानकारी

वार्डेन ने छात्रों से कहा कि अभी कोर कमेटी की बैठक चल रही है. यदि कमेटी हॉस्टल खोलने को कहती है तो हॉस्टल खोल दिए जाएंगे, वार्डेन के समझाने के बाद नरेंद्र देव छात्रावास में घुसे छात्र तो बाहर निकल गए, लेकिन राजाराम छात्रावास में छात्र अंदर ही डटे रहे. इस मामले में चीफ प्रॉक्टर ओपी. राय ने कहा कि जो छात्रावास कोविड-19 के दौरान खुले थे, उन्हीं में छात्रों को रहने की छूट है. शेष सभी हॉस्टल बंद हैं. हॉस्टल को खोलने की प्रक्रिया कोविड-19 की गाइडलाइन के आधार पर ही की जाएगी.

शव का हेराफेरी भरा दाह संस्कार, BHU पर केस करेगी ACMO और पूर्व SHO की फैमिली

शादी में लड़की छेड़ने पर विवाद, पुलिस ने कराए दूल्हा-दुल्हन के फेरे

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें