सांस्कृतिक समाजवाद का शिक्षण देने वाला पहला विश्वविद्यालय बनेगा बीएचयू

Smart News Team, Last updated: 23/02/2021 11:58 AM IST
  • बीएचयू में सांस्कृतिक समाजवाद के विषय का अध्ययन एवं अध्यापन शुरू होने वाला है. जिससे यह देश का ऐसा पहला विश्वविद्यालय बनेगा. इसके लिए विज्ञान संकाय में डॉ. राममनोहर लोहिया चेयर की स्थापना होगी. इस चेयर के गठन के लिए पांच करोड़ का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है.
बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय.

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय देश का ऐसा पहला विश्वविद्यालय बनने जा रहा है, जहां सांस्कृतिक समाजवाद का अध्ययन कराया जाएगा. इसके लिए विज्ञान संकाय में डॉ. राममनोहर लोहिया चेयर फॉर स्टडीज ऑफ कल्चरल सोशलिज्म की स्थापना की जाएगी. इस संकाय में डॉ. राममनोहर लोहिया चेयर के गठन के लिए प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है. यह गठन पीएमओ की प्राथमिकता सूची के आधार पर शिक्षा मंत्रालय के दिशा निर्देश मिलने के बाद किया जा रहा है.

देश के कई केंद्रीय व राज्य विश्वविद्यालयों में समाजवाद एवं समाजवादी चिंतन पर अध्ययन के लिए केंद्र और शोधपीठ है. लेकिन बीएचयू अब ऐसा प्रथम विश्वविद्यालय बनने वाला है जिसमें सांस्कृतिक समाजवाद के विषय पर शिक्षण दिया जाएगा. जिसके लिए संकाय में राममनोहर लोहियो चेयर के गठन के लिए यह प्रस्ताव पांच करोड़ में तैयार किया जा रहा है.

नशीली दवा के गोरखधंधे पर STF का एक्शन, 1 करोड़ की कफ सीरप जब्त, 5 अरेस्ट

इस संदर्भ में संकाय के डीन प्रो. कौशल किशोर मिश्र का कहना है कि सांस्कृतिक समाजवाद स्थापित करने का नारा सबसे पहले डॉ. राममनोहर लोहिया ने दिया था. इस कारण इस शोध पीठ की स्थापना भी उनके नाम पर ही की जाएगी. उनके अनुसार आत्मनिर्भर भारत के लिए सांस्कृतिक समाजवाद को स्वयं समझना एवं अन्य लोगों को इसे समझाना बेहद महत्वपूर्ण है.

वाराणसी: BHU में सभी कक्षाओं को खोलने की मांग के लिए गेट पर धरने पर बैठ छात्र

लेकिन अब तक सांस्कृतिक समाजवाद ऐसा विषय रहा है जो शैक्षणिक संस्थानों में उपेक्षित रहा है. इस कारण इस विषय को जन-जन को समझाने के लिए इसका विधिवत अध्ययन व अध्यापन किया जाना चाहिए. इसके अलावा उन्होंने आगे बताया कि जनोपयोगी शोधकर्तांओं को सांस्कृति समाजवाद के विषय में प्रोत्साहित करने के लिए इस शोध की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होगी.

बजट में UP की बेटियों पर मेहरबान योगी सरकार, फ्री टैबलेट समेत कई बड़े ऐलान

रामराज्य की गांधियन को बीएचयू करेगा श्री राम शोध पीठ की स्थापना

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें