धूमधाम से मनाई जाएगी पं. दीनदयाल उपाध्याय की 104वीं जयंती, BJP कर रही खास तैयारी

Smart News Team, Last updated: 24/09/2020 12:29 AM IST
  • वाराणसी में पं. दीनदयाल उपाध्याय की 104वीं जयंती पर कई कार्यक्रम होंगे. इसके लिए बीजेपी तैयारी में जुट गई है. बुधवार को बीजेपी के वरिष्ठ कार्यकर्ताओं ने तैयारियों का जायजा लिया.
25 सितंबर को पं. दीनदयाल उपाध्याय स्मृति स्थल पर कई सारे आयोजन होंगे.

वाराणसीः पं. दीनदयाल उपाध्याय की 104वीं जयंती के लिए बीजेपी तैयारी में जुट गई है. वाराणसी में 25 सितंबर को भाजपा बूथ वार आयोजित करेगी. उस दिन पं. दीनदयाल उपाध्याय के स्मृति स्थल पर बहुत सारे आयोजन होंगे. इस कार्यक्रम में भाजपा के कई बड़े पदाधिकारी शामिल होंगे. बुधवार को बीजेपी के वरिष्ठ कार्यकर्ताओं ने तैयारियों का जायजा लिया.

पं. दीनदयाल उपाध्याय की 104वीं जयंती पर 25 सितंबर को वाराणसी में कई कार्यक्रम निर्धारित कर लिए गए हैं. काशी में बीजेपी महामंत्री अशोक चौरसिया ने कहा कि पड़ाव में दो दिन तक कई प्रकार के आयोजन होंगे. इसमें 24 सितंबर को पूर्व संध्या पर 1,100 दीप जलाकर स्मृति स्थल को जगमग किया जाएगा. इसके बाद जयंती के दिन सुबह 8.30 बजे से 104 कार्यकर्ताओं द्वारा 104 पौधे लगाये जाएंगे. उन्होंने कहा कि उस दिन दीनदयाल उपाध्याय के जीवन चरित्र और एकात्म मानववाद पर कार्यकर्ता चर्चा करेंगे.

कोरोना काल: 6 महीने बाद खुला BHU विश्वनाथ मंदिर, बिना फूल-माला बाहर से हुए दर्शन

पं. दीनदयाल उपाध्याय की 104वीं जयंती पर पं. दीनदयाल उपाध्याय स्मृति स्थल पर होने वाले कार्यक्रमों की तैयारियों का भाजपा नेताओं ने जायजा लिया. भाजपा कार्यकर्ताओं को अलग-अलग कार्यक्रमों की जिम्मेदारी दी गई है. जायजे के दौरान प्रदेश सह प्रभारी सुनील ओझा, क्षेत्रीय महामंत्री अशोक चौरसिया, जिला अध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा, महानगर अध्यक्ष विद्या सागर राय, चंदौली जिला अध्यक्ष अभिमन्यु सिंह, शिवशंकर पटेल, जगदीश त्रिपाठी, अशोक पटेल, प्रवीण सिंह गौतम, संजय सोनकर, संतोष सोलापुरकर और रौनी वर्मा मौजूद रहे. 

वाराणसी सिटी से चलने वाली कृषक स्पेशल ट्रेन 12 अक्टूबर तक चलेगी मऊ से लखनऊ

मीडिया प्रभारी नवरतन राठी ने कहा कि इस कार्यक्रम में वाराणसी महानगर, चंदौली सांसद, विधायक, महापौर, जिला पंचायत अध्यक्ष, प्रदेश पदाधिकारी, क्षेत्र पदाधिकारी, जिला पदाधिकारी और समस्त मंडल अध्यक्ष शामिल होंगे.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें