वाराणसी: डबल रेल लाइन निर्माण के चलते 2 फरवरी तक छपरा इंटरसिटी ट्रेन निरस्त

Smart News Team, Last updated: 01/02/2021 09:29 PM IST
  • वाराणसी और बलिया फेफना रेल मार्ग को डबल रेल लाइन परियोजना का कार्य समय रहते पूरा नहीं किया जा सका है. डबल रेल लाइन के निर्माण का काम अधूरा होने के चलते रेल प्रशासन ने छपरा इंटरसिटी ट्रेन निरस्त की है. दो से पांच घंटे तक का ब्लॉक लेकर ट्रैक पर कार्य किया जाना है.
फाइल फोटो

वाराणसी. वाराणसी और बलिया फेफना मार्ग का डबल रेल लाइन निर्माण का कार्य अधूरा है. इसे पूरा करने के लिए रेल प्रशासन ने नॉन इंटरलॉकिंग अवधि का 2 फरवरी तक विस्तार किया है. इस बीच रेल प्रशासन ने छपरा इंटरसिटी रेलगाड़ी को निरस्त कर दिया है वही कुछ रेलगाड़ियों के मार्ग को भी परिवर्तित किया है. बता दें कि वाराणसी और बलिया फेफना रेल मार्ग को डबल रेल लाइन परियोजना का कार्य समय रहते पूरा नहीं किया जा सका है. इस कार्य को पूरा करने के लिए अब रेल प्रशासन ने नान इंटरलॉक अवधि आगामी 2 फरवरी तक बढ़ा दी है. 

इस दौरान इस लाइन पर 2 से 5 घंटे तक का ब्लॉक लेकर कार्य किया जाना है. ऐसी स्थिति में रेल प्रशासन ने ट्रेन संख्या 05111 छपरा वाराणसी सिटी इंटरसिटी एक्सप्रेस एवं गाड़ी संख्या 05112 वाराणसी सिटी छपरा इंटरसिटी एक्सप्रेस मंगलवार यानी 2 फरवरी तक के लिए निरस्त कर दी है. बलिया से चलकर सियालदह जाने वाली बलिया सियालदह एक्सप्रेस 2 फरवरी तक छपरा रेलवे स्टेशन से खुलेगी. यह गाड़ी बलिया छपरा के मध्य आंशिक तौर पर निरस्त रहेगी. इसके अलावा रेल प्रशासन ने कोलकाता गाजीपुर सिटी एक्सप्रेस कोलकाता से 31 जनवरी को चलने वाली गाजीपुर सिटी के स्थान पर यह रेलगाड़ी छपरा रेलवे स्टेशन पर ही रुक जाएगी. यह ट्रेन छपरा गाजीपुर सिटी के मध्य आंशिक तौर पर निरस्त रहेगी. 

एक फरवरी से फिर बहाल होगी ई- कैटरिंग सेवा, रेलवे बोर्ड ने दी स्वीकृति

इस संबंध में पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अशोक कुमार ने बताया कि वाराणसी और बलिया फेफना मार्ग का दोहरीकरण का कार्य समय से पूरा नहीं हो सका है इस कार्य को पूरा करने के लिए 2 फरवरी तक की अवधि सुनिश्चित की गई है. इस दौरान कुछ ट्रेन को पूरी तरह निरस्त किया गया है तथा कुछ एक ट्रेन को आंशिक तौर पर निरस्त किया गया है इसके अलावा 6 रेलगाड़ियों के मार्ग को भी परिवर्तित किया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें