CM योगी आज वाराणसी के अमीनी गांव से देश के पहले आदर्श ब्लॉक का लेंगे जायजा

Smart News Team, Last updated: Sun, 7th Feb 2021, 9:50 AM IST
  • वाराणसी के गांव में मुख्यमंत्री योगी का यह पहला दौरा होगा. सीएम योगी आदित्यानाथ के अचानक कार्यक्रम से प्रशासन समेत विभिन्न विभाग के अधिकारी हड़बड़ी में आ गए.  सीएम के आगमन की तैयारियों का जायजा लेने कमिश्नर और डीएम समेत पूरा प्रशासनिक अमला रविवार को अमीनी गांव पहुंच गया.
सीएम योगी वाराणसी के अमीनी गांव रविवार को पहुचेंगे.

वाराणसी. सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ देश में बनाए जा रहे पहले आदर्श ब्लॉक सेवापुरी में हुए कार्यों की हकीकत को रविवार परखेंगे. इसके लिए उन्होंने निर्माणाधीन आदर्श ब्लॉक के अमीनी गांव को चुना है. मुख्यमंत्री दोपहर 3:30 बजे हेलीकाप्टर द्वारा अयोध्या से अमीनी गांव में लैंड करेंगे. जिले के किसी गांव में मुख्यमंत्री का यह पहला दौरा होगा.

शनिवार शाम मुख्यमंत्री के अचानक कार्यक्रम से प्रशासन समेत विभिन्न विभाग हड़बड़ी में आ गए. गांव में सीएम के आगमन की तैयारियों का जायजा लेने कमिश्नर और डीएम समेत पूरा प्रशासनिक अमला अमला आ गया. तय प्रोग्राम के मुताबिक मुख्यमंत्री पंचायत भवन परिसर में आरोग्य और स्वच्छता मेला का शुभारम्भ करेंगे.  

यूपी: IAS, IPS फ्री कोचिंग के लिए 10 फरवरी से रजिस्ट्रेशन, ऐसे करें अप्लाई

सीएम योगी आंगनबाड़ी केंद्र, पूर्व माध्यमिक विद्यालय, स्वास्थ्य केंद्र का जायजा लेंगे. फिर पंचायत भवन सचिवालय परिसर में केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं से जुड़े 42 स्टॉल देखेंगे. वह विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों और प्रगतिशील किसानों से संवाद भी करेंगे. 

सोशल मीडिया पर फोटो डालकर भड़के आशिक ने तुड़वा दी एक्स गर्लफ्रैंड की शादी, अरेस्ट

एडीएम प्रशासन रणविजय सिंह, एसडीएम राजातालाब मणिकण्डन ए, एसपी ग्रामीण, सीओ बड़ागांव के साथ मिर्जामुराद, कपसेठी और जंसा थाने की फोर्स तैयारियों में जुटी हुई है. गांव के पास पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन की निगरानी में हैलीपैड व पार्किंग स्थल बनाया जा रहा था. शाम को अचानक अधिकारियों के आने-जाने से ग्रामीण अवाक रह गये थे.  

BHU अस्पताल में एम्बुलेंस ड्राइवर से छात्रों ने बेरहमी से पीटा, गेट पर तोड़फोड़

मुख्यमंत्री के आमद कि वजह से पूरा प्रशासनिक अमला सक्रिय हो गया है और इलाके में जान झोंक दी है. मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में कोई कमी ना रह जाय इस वजह से कई अफसरों ने अमीनी गावों में ही अपनी रात गुजारी. 

वाराणसी : देश की तीसरी कारपोरेट ट्रेन काशी महाकाल एक्सप्रेस को चलाने की तैयारी 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें