गंगा में अगले माह से है चलेंगी सीएनजी नाव

Smart News Team, Last updated: Sun, 21st Feb 2021, 1:35 PM IST
  • गंगा में वायु प्रदूषण पर नियंत्रण लगाने के लिए नगर निगम में गंगा नदी में चल रही डीजल नावों को सीएनजी में परिवर्तित करने की अंतिम रूप रेखा तय कर ली है. मार्च माह में नगर निगम गंगा में 50 सीएनजी नावों को उतारेगा.
सीएनजी नाव (फाइल फोटो)

वाराणसी. डीजल नावों को सीएनजी में परिवर्तित करने को लेकर शनिवार को नगर आयुक्त गौरांग राठी ने अफसरों के साथ बैठक की. बैठक में गंगा नदी में संचालित डीजल नावों को सीएनजी में कन्वर्ट करने को लेकर चर्चा की गई. चर्चा के दौरान नगर आयुक्त गौरांग राठी ने बताया कि गंगा नदी को प्रदूषण से मुक्त कराने के लिए सीएनजी से नाव संचालित करने की अंतिम रूपरेखा तय कर ली गई है. 

उन्होंने बताया कि परियोजना की शुरुआत में 5 नाविकों से नाव को लेकर कार्यदाई संस्था को उपलब्ध कराया जाएगा. बाद में गंगा नदी में चल रही सभी नावो में डीजल इंजन को परिवर्तित कर सीएनजी किट लगाई जाएगी. उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में कारदायी संस्था को 5 डीजल इंजन की नाव सीएनजी में परिवर्तित करने के लिए दी जाएंगी. इन नावो को नाविकों के मध्य प्रदर्शित किया जाएगा. 

गन शॉट साइलेंसर बुलेट चालकों पर 21 लाख रुपए का जुर्माना

इसके बाद मार्च माह में तकरीबन 50 और अप्रैल माह में लगभग 200 नावों को सीएनजी में परिवर्तित किया जाएगा. इसके बाद मई माह से प्रतिमाह 200 नावो को सीएनजी में परिवर्तित करने की प्रक्रिया अपनाई जाएगी. उन्होंने बताया कि इस कार्य के लिए आशीष ओझा व गेल की टीम नाविकों से संपर्क करेगी. नगर आयुक्त ने बताया कि अप्रैल माह तक 255 नाव सीएनजी से गंगा नदी में संचालित होने लगेंगी. इन नावों में सीएनजी फिलिंग के लिए 15 अप्रैल तक एक और अप्रैल माह के अंत तक दो जेटी और क्रियाशील हो जाएंगी. उन्होंने बताया कि इस परियोजना में पंजीकरण कराकर लाइसेंस प्राप्त करने वाले नाविकों को ही शामिल किया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें