वाराणसी: अब गंभीर मरीजों की जांच होगी नि:शुल्क, कमिशनर ने दिए आदेश

Smart News Team, Last updated: 17/08/2020 12:44 AM IST
  • डायबिटीज हाइपरटेंशन, हृदय, गुर्दा आदि रोगों से ग्रसित मरीजों को ऑक्सीजन स्तर की निगरानी देने का निर्देश कोरोना से मिलते जुलते लक्षण वाले व्यक्तियों एवं को-मॉबिटिक मरीजों को खोजकर समय से उनकी जांच
प्रतीकात्मक तस्वीर 

वाराणसी। वाराणसी जिले के कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने कोरोना के लेकर बैठक की. बैठक के दौरान उन्होंने कई निर्देश जारी किए. इस दौरान उन्होंने स्वास्थ्य महत्त्व में महकमे को कोरोना काल में हमेशा अलर्ट रहने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि संकट के इस दौर में किसी भी प्रकार की लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उन्होंने गंभीर रोग से ग्रसित लोगों के कोरोना की निशुल्क जांच किए जाने के निर्देश दिए. 

इस दौरान उन्होंने डायबिटीज, हाइपरटेंशन, हृदय आदि से संबंधित मरीजों को ऑक्सीजन स्तर की निगरानी किए जाने का निर्देश दिया. कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने स्वास्थ्य विभाग निर्देश देते हुए कहा कि जहां तक संभव हो ऐसे व्यक्तियों को स्वयं भी पल्स ऑक्सीमीटर अपने पास रखना चाहिए. उससे बराबर जांच करते रहें और सुनिश्चित करें कि ऑक्सीजन का स्तर 95 से अधिक बना रहे.

वहीं सघन सर्विलांस अभियान के माध्यम से जिले में यह सुनिश्चित करें कि कोरोना के संक्रमण का खतरा कम हो और इसके लिए आवश्यक है कि कोरोना से मिलते जुलते लक्षण वाले व्यक्तियों एवं को-मॉबिटिक मरीजों को खोजकर समय से उनकी जांच व उपचार किया जाए.

वहीं जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने कहा कि पहले से गंभीर बीमारियों का इलाज करा रहे लोग अपने ऑक्सीजन स्तर की नियमित जांच करते रहें. शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के सभी प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, मंडलीय अस्पताल, जिला अस्पताल, लाल बहादुर राजकीय चिकित्सालय-रामनगर के अलावा चैरिटेबल अस्पतालों में पल्स ऑक्सीमीटर द्वारा आक्सीजन की निश्शुल्क जांच की सुविधा उपलब्ध है, मरीज इस सुविधा का लाभ उठाएं.

इस अवसर पर आइएएस ऋषिरेन्द्र कुमार एवं आइएएस अमित कुमार सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. वीबी सिंह आदि मौजूद रहे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें