काशी विश्वनाथ मंदिर में पूजा करने पर प्रियंका गांधी के खिलाफ दर्ज केस खारिज

Smart News Team, Last updated: 08/12/2020 10:19 PM IST
  • कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन पूजन करने के खिलाफ दर्ज केस को कोर्ट ने खारिज कर दिया है. प्रियंका गांधी वाड्रा पर आरोप था कि उन्होनें मंदिर में पूजन करके करोड़ों हिंदूओं की भावनाओं को आहत किया है.
प्रियंका गांधी के खिलाफ काशी विश्वनाथ मंदिर में पूजा करने पर दर्ज याचिका खारिज.

वाराणसी. कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी के बनारस विश्वनाथ मंदिर में पूजा करने के मामले पर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एसपी यादव की अदालत ने उनके खिलाफ दर्ज अर्जी को खारिज कर दिया है. कोर्ट ने मंदिर में पूजा करने के मामले पर कहा कि किसी के मंदिर दर्शन और पूजन करने से किसी की भावना आहत नहीं होती है और प्रियंका गांधी ने कोई ऐसा काम नहीं किया है जो किसी अपराध की श्रेणी में आता है. ऐसे में अर्जी पर सुनवाई योग्य नहीं है.

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी पर आरोप लगाते हुए वकील कमलेश चंद्र त्रिपाठी ने कोर्ट में धारा 156(3) के अंतर्गत अर्जी दी थी कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ईसाई धर्म के परिवार से वास्ता रखती हैं और उन्होनें 20 मार्च 2019 में काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह में पहुंचकर पूजा और अर्चना की है. जिससे हिंदु धर्म के लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंची है. 

बेसिक शिक्षा में भ्रष्टाचार कर रहे बाबुओं और अधिकारियों को निशाना बनाएगी यूटा

वकील कमलेश चंद्र त्रिपाठी ने अपनी अर्जी में लिखा कि मंदिर में प्रियंका गांधी के दर्शन और पूजन करने पर रोक लगाने के लिए जिलाधिकारी समेत अन्य अधिकारियों से भी अपील की गई थी लेकिन उनके द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई थी. आरोप लगाते हुए कहा गया कि प्रियंका गांधी के पूजा करने से करोड़ों हिंदू धर्म के लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं. 

यूपी में रिवर टूरिज्म को बढ़ाने के लिए IWAI से करार, गंगा में चलेगी रो-रो पैक्स

कोर्ट से कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा समेत मंदिक के मुख्य कार्यपालक अधिकारी, पुजारी समेत अन्य के खिलाफ केस दर्ज करने की अपील की गई थी. अदालत ने सभी बातों पर विचार करने के बाद अपना फैसला सुनाते हुए प्रियंका गांधी के खिलाफ दाखिल अर्जी को खारिज कर दिया है. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें