वाराणसी अस्पताल के कोरोना मरीजों को मिली नई सुविधा, गरम पानी की ले सकेंगे भाप

Smart News Team, Last updated: 05/08/2020 07:01 PM IST
  • संक्रमितों के लिए कोविड हॉस्पिटल में पहुंचा वेपोराइजर, इंडियन रेड क्रॉस सोसायटी की ओर से सभी कोविड के विभिन्न अस्पतालों में भाप लेने वाली मशीन वेपोराइजर उपलब्ध करा दी गई है। अब मरीज गर्म पानी की भाप ले सकेंगे।
वाराणसी के जिलाधिकारी अस्पताल को वेपोराइजर समर्पित करते हुए

वाराणसी. प्रदेश सहित पूरे देश में कोरोना संक्रमण पांव पसारता जा रहा है। जिसके तहत वाराणसी के जिलाधिकारी के निर्देशन में इंडियन रेड क्रॉस सोसाइटी की ओर से निर्देश जारी किए गए थे कि कोरोना मरीज के इलाज में गर्म पानी की भाप लेना अति आवश्यक है। वाराणसी के कोविड हॉस्पिटल में भर्ती मरीजों की सुविधाओं पर अब जोर दिया जाने लगा है। इसके लिए कमिश्नर, जिला अधिकारी स्वयं मरीजों से बातचीत कर उनका हाल चाल लेते हुए फीडबैक ले रहे हैं। अस्पताल परिसर में संक्रमित मरीजों के लिए सुविधाएं लगातार बढ़ाई जा रही हैं।

शुक्रवार को जिलाधिकारी के निर्देश पर इंडियन रेड क्रॉस सोसायटी की ओर से सभी कोविड के विभिन्न अस्पतालों में भाप लेने वाली मशीन वेपोराइजर उपलब्ध करा दी गई है। अब मरीज गर्म पानी की भाप ले सकेंगे।

जिले के दीनदयाल अस्पताल, ईएसआई हॉस्पिटल, राजकीय आयुर्वेद कॉलेज चौकाघाट, सेंट मैरी हॉस्पिटल लोहता और डीरेका अस्पताल में 300 वेपोराइजर पहुंचाए गए हैं। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा को ने बताया कि कोरोना के मरीजों को खांसी और गले में खरास व कफ की समस्या बनी रहती है। ऐसे मरीजों को दिन में कई बार गर्म पानी के भाप लेने की जरूरत भी पड़ती है।

इंडियन रेड क्रॉस सोसायटी के सचिव और एडिशनल सीएमओ डॉ. संजय राय ने बताया कि इस मशीन से पांच से दस मिनट तक गर्म पानी का भाप लेने से ही मरीजों को आराम मिल जाएगा। गर्म पानी का भाप नाक से लेने पर बंद नाक खुलती है। नाक और गले से गर्म हवा सीधे फेफड़ों तक पहुंचती है। जिससे सांस की नली और आसपास जमा कफ भी बाहर निकल जाता है। उन्होंने बताया कि यह सुविधा प्रारंभ होने से कोविड अस्पतालों में भर्ती मरीजों को काफी राहत मिलेगी।